00
ऋचा नेमा . भोपाल
यूथ से लेकर ऑफिस वर्कर के लिए इन दिनों स्कूल-कॉलेज, ऑफिस की कैंटीन से लेकर रेस्टोरेंट में भी सावन सोमवार का स्पेशल फलाहार जायका शामिल हो गया है। शिव की अराधना के लिए सावन का महीना खास होता है। ऐसे में स्कूल व कॉलेज जाने वाले युवाओं से लेकर ऑफिस वर्कर भी हर सावन सोमवार का व्रत रख रहे हैं। इसके लिए स्कूल-कॉलेज से लेकर ऑफिस की कैंटीन और टिफिन सेंटर से लेकर होटलों व रेस्टोरेंट का जायका फलाहारी हो गया है। वहीं स्ट्रीट फूड के मेन्यू में भी फलाहारी व्यंजन शामिल कर लिए गए हैं।
कॉलेजों की केंटीन संचालकों ने छात्र-छात्राओं के लिए फलाहार के स्वादिष्टï व्यंजन मेन्यू में शामिल कर लिए हैं, जिससे अलग-अलग प्रकार के फलाहारी व्यंजनों का लुत्फ विद्यार्थी ले सकें। शहर के नूतन कॉलेज की छात्रा प्रिया खरे ने बताया कि सभी दोस्तों ने भी व्रत रखा है। सभी मिलकर कॉलेज की केंटीन में साबूदाने की खिचड़ी खाते हैं।
बृजवासी मिष्ठïान भंडार के संजीव अग्रवाल ने बताया कि हर साल की तरह इस बार भी सावन सोमवार के अवसर पर फलाहारी व्यंजन तैयार किए गए हैं। यहां नमकीन 200 रुपए किलो, मावे की जलेवी 280 रुपए किलो और साबूदाना की खिचड़ी 200 रुपए किलो में खरीद सकते हैं। श्री अग्रवाल का कहना है कि लोगों में सबसे ज्यादा मांग मावे की जलेवी की रहती है।  मिलन रेस्टोरेंट के प्रदीप सोनी ने बताया कि  सावन सोमवार को लेकर विशेष रूप से मेन्यू में फलाहार शामिल किया है। यहां साबूदाने की खिचड़ी, रजगिरा की पूरी और आलू की सब्जी, हरी चटनी, फ्रूट चाट, मिल्क शेक, लस्सी, दही व मठा का स्वाद चख सकते हैं।
फलाहार में क्या-क्या
साबूदाना खिचड़ी, साबूदाना बड़े व कटलेट, आलू चाट,  सिंघाड़े के भजिए, रजगिरा की पूरी और आलू की सब्जी, हरी चटनी, साबूदाना खीर और सिंघाड़े के आटे का हल्वा, फ्रूट चाट, मिल्क शेक, लस्सी, दही व मठा के अलावा आदि फलाहारी मेन्यू में शामिल किए गए हैं।