मिशन-2013:मुख्यमंत्री निवास में होगी नाई, मोची, बढ़ई और लोहार की पंचायत     पवन ऊर्जा को करंट की दरकार:ठंडी पड़ी पवन ऊर्जा से जिलों को रोशन करने की योजना     एमआरपी से अधिक दाम पर बिक्री :15 रुपए के अंकल चिप्स 20 रुपए में      एड्स में बढ़ा भोपाल:सर्वाधिक पीडि़त इंदौर में, भोपाल दूसरे क्रम पर     आरोपी की कराई जा रही शिनाख्त:फायरिंग कर थाने से बदमाश को छुड़ाने का मामला      वाटर डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क को एजेंसी की दरकार:चयन करने का मामला ठंडे बस्ते मै     तबादला नियम बनाकर भूली सरकार:पीएचई में मलाईदार विभागों में वर्षों से जमे हैं अधिकारी     विधानसभावार सम्मेलन कल से होंगे शुरू:राष्ट्रीय और प्रदेश पदाधिकारी लेंगे भाग     बगैर भगवा रंग के 35 हजार बाजार प्रमुख:15 हजार की और होगी नियुक्ति, जुलाई में सम्मेलन की तैयारी     अजय की यात्रा आते-जाते रहेंगे भूरिया     ताजा खबरो के लिये पढ्ते रहें - dainiksandhyaprakash.com
 
 
  कुछ और खबरें

भारत भवन में पहली बार मप्र रंगोत्सव

कला केंद्र भारत भवन में पहली बार प्रदेश के रंगकर्मियों के लिए रंगोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। आगामी 22 से 28 मई तक आयोजित होने वाले इस उत्सव में प्रदेश के अग्रणी नाट्य निर्देशकों द्वारा तैयार नए नाटकों का मंचन किया जाएगा। इसके अलावा आगामी 12 से 14 मई तक युवा नामक परिचर्चा, कविता और कहानी पाठ तथा नाट्य प्रस्तुति पर केंद्रित तीन दिवसीय समारोह आयोजित हो रहा है।
मध्यप्रदेश रंगोत्सव का आयोजन भारत भवन के नाट्य प्रभाग रंगमंडल द्वारा आयोजित किया जा रहा है। उत्सव के पहले दिन 22 मई को आलोक चटर्जी निर्देशित नाटक जनशत्रु, 23 मई को मनोज मिश्र निर्देशित नाटक वेटिंग फार गोदो, 24 मई को अशोक बुलानी निर्देशित नाटक हनीमून, 25 मई को राजीव आयाचि का बुंदेली नाटक भोलाराम हिरा गव, 26 मई को संजय मेहता निर्देशित नाटक कबीर का संसार, 27 मई को राजेश भदौरिया निर्देशित नाटक लहरों का राजहंस और उत्सव के समापन अवसर पर 28 मई को वसंत काशीकर निर्देशित नाटक अर्जेन्ट मीटिंग का मंचन किया जाएगा। इन नाटकों में प्रवेश शुल्क 20 रूपए रखा गया है।
वहीं कविता केंद्र वागर्थ द्वारा आयोजित युवा समारोह का उद्घाटन 12 मई को शाम 7 बजे होगा। जिसमें वक्तव्य प्रख्यात साहित्यकार रमेशचंद्र शाह देंगे और स्वागत वक्तव्य में भारत भवन के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी तरूण भटनागर कार्यक्रम की रुपरेखा प्रस्तुत करेंगे। समारोह में कविता पाठ, परिचर्चा, कहानी पाठ तथा नाट्य प्रदर्शन में नाटक समाप्ति का मंचन होगा। नाटक की प्रस्तुति संभव नाट्य संस्था, दिल्ली के कलाकारों द्वारा देवेन्द्र राज अंकुर के निर्देशन में दी जाएगी।
 
  Go Back

  More News
बेनजीर का नया नाम चंद्रशेखर आजाद
बीएसएनएल ने संभागायुक्त के समक्ष उठाए नौ मुद्दे
भारत भवन में पहली बार मप्र रंगोत्सव
टिकट पा चुके पहलवान जाएंगे अमेरिका
प्रदेश रचेगा नया गौरवशाली इतिहास...
हार्डकोर रोमांटिक हूं : मलायका
    Previous Next
 

Home | About Us | Feedback | Contact Us | Disclaimer | Advertisement

Copyright 2011-12, Dainik Sandhya Prakash | Website developed & hosted by - eWay Technologies