ड्राई आई सिंड्रोम से बचने काम के बीच दें आंखों को आराम
By dsp bpl On 3 Nov, 2016 At 01:35 PM | Categorized As लाइफ स्टाइल | With 0 Comments

लगातार कंप्यूटर पर काम करने से आंखों में कई तरह की समस्या पैदा होती हैं, उनमें से एक है-ड्राई आई सिंड्रोम। ऐसे में आपको चाहिए काम के बीच में अपनी आंखों को आराम भी दें और अपने खान-पान का भी पूरा-पूरा खयाल रखें।

यही नहीं समय-समय पर आंखों की जांच भी करवाते रहें। अगर आप घर से बाहर निकल रहे हैं तो ऐसे में आप अच्छी क्वॉलिटी का चश्मा पहनकर ही निकलें। इससे आप धूल, धूप आदि से बचे रहेंगे। साथ ही थोड़ी-थोड़ी देर के बाद आंखों में पानी के छीटे भी देते रहें। इससे आंखों को आराम मिलता है।

खाने में हरी साग-सब्जियां, मौसमी फल और दूध आदि का सेवन ज्यादा से ज्यादा करना चाहिए। इससे आंखों में होने वाली तमाम तरह की समस्याओं से छुटकारा मिलता है। साथ ही आंखों की रोशनी बढ़ती है। आजकल ड्राई आई सिंड्रोम की समस्या काफी तेजी से बढ़ रही है। इसकी वजह है लगातार कंप्यूटर पर काम करते रहना। ऐसे में या तो आंखों में आंसू कम बनने लगते हैं या उनकी गुणवत्ता अच्छी नहीं रहती है।

शोधकर्ताओं का कहना है कि जो व्यक्ति नियमित रूप से दो से तीन घंटे कंप्यूटर पर लगातार काम करते हैं, उनमें कंप्यूटर विजन सिंड्रोम के लक्षण देखने को मिल सकते हैं। लेकिन ऐसे में कुछ सावधानियां बरतकर आंखों की समस्या से बचा जा सकता है। कंप्यूटर पर काम करते समय आंखों की पलकों को झपकाते रहना चाहिए। पलकों को झपकाने से आंख की पुतली के ऊपर आंसू फैलते हैं, जिससे आंखों में सूखापन नहीं रहता। इससे आंखों में नमी बनी रहती है। ध्यान रहे कंप्यूटर स्क्रीन पर एन्टीग्लेयर स्क्रीन लगा होना चाहिए। साथ ही ध्यान रखें कि कंप्यूटर की स्क्रीन से आपकी आंखें कुछ दूरी पर हों क्योंकि कंप्यूटर का आंखों के ऊपर सीधा प्रभाव पड़ता है।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>