संरा महासभा अध्यक्ष ने आईसीजे चुनावों पर किया विचार विमर्श
By dsp bpl On 18 Nov, 2017 At 01:12 PM | Categorized As विश्व | With 0 Comments

वाशिंगटन। संयुक्त राष्ट्र महासभा अध्यक्ष मिरोस्लाव लैजकक ने अंतरराष्ट्रीय अदालत (आईसीजे) में एक सीट के लिए भारत और ब्रिटेन के उम्मीदवारों के बीच बने गतिरोध को समाप्त करने के लिए अगले सप्ताह होने वाले अहम चुनाव के मद्देनजर न्यूयॉर्क में कई दौर की बातचीत की। हेग स्थित आईसीजे में फिर से चुनाव लड़ रहे भारत के दलवीर भंडारी और ब्रिटेन के क्रिस्टोफर ग्रीनवुड ने संयुक्त राष्ट्र महासभा और सुरक्षा परिषद दोनों में 11 चरणों में हुए चुनाव में बड़ी लड़ाई लड़ी लेकिन चुनाव बेनतीजा रहा। महासभा और सुरक्षा परिषद में 12वें चरण के मतदान के लिए सोमवार दोपहर को बैठक होनी है। बैठक की अध्यक्षता लैजकक करेंगे।

पिछले दो सप्ताह में दो दिन से ज्यादा चले चुनाव के लगातार चरणों में 70 वर्षीय भंडारी को 193 सदस्यीय महासभा में करीब दो-तिहाई बहुमत मिला था। दूसरी ओर 62 वर्षीय ग्रीनवुड को सुरक्षा परिषद में भंडारी के पांच मतों के मुकाबले नौ मत मिले थे। आईसीजे के नियमों के मुताबिक, उम्मीदवारों को चयनित घोषित किए जाने के लिए महासभा और सुरक्षा परिषद दोनों में बहुमत हासिल करने की जरुरत होती है। आईसीजे की पीठ में 15 न्यायाधीश हैं। उसके एक तिहाई न्यायाधीशों के लिए हर तीन साल में चुनाव होता है।

लैजकक के प्रवक्ता ब्रेंडन वर्मा ने संवाददाताओं को बैठकों के बारे में बताया। उन्होंने न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में संवाददाताओं से कहा, ‘‘लैजकक सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष, इटली के राजदूत सेबस्टियानो कार्डी के साथ-साथ संयुक्त राष्ट्र के कानून मामलों के कार्यालय और महासभा के संयुक्त राष्ट्र विभाग और कांफ्रेंस प्रबंधन से आज मुलाकात करेंगे।’’ प्रवक्ता ने मौजूदा गतिरोध के बारे में कहा कि इस संबंध में अभी कुछ बोलना जल्दबाजी होगी। सोमवार तक इंतजार करना सही होगा कि कैसे बैठकें चलती है। इस बीच, अमेरिका ने न्यूयॉर्क में आईसीजे चुनावों पर सवालों का जवाब देने से इनकार कर दिया।

अमेरिका संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का ना केवल स्थायी सदस्य है बल्कि इस संस्था के सदस्य देशों पर उसका अहम प्रभाव है। इस मुद्दे पर उसके रूख के बारे में सार्वजनिक तौर पर पता नहीं चला है। भारत का लक्ष्य सोमवार को महासभा में दो तिहाई वोट हासिल करने का है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता और संयुक्त राष्ट्र के पूर्व अधिकारी शशि थरूर ने सुरक्षा परिषद से ‘‘महासभा के फैसले का सम्मान’’ करने की अपील की। इससे एक दिन पहले वर्मा ने कहा था कि अगर सोमवार की बैठक बेनतीजा रही तो न्यूयॉर्क में तीन अतिरिक्त प्रक्रियाओं का पालन किया जा सकता है।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>