अमेरिका को भारत में निवेश जारी रखना चाहिए: श्राइवर
By dsp bpl On 17 Nov, 2017 At 02:48 PM | Categorized As विश्व | With 0 Comments

वाशिंगटन। एशियाई और प्रशांत सुरक्षा मामलों के लिए सहायक रक्षा मंत्री के तौर पर नामित किए गए रान्डेल श्राइवर का कहना है कि अमेरिका को अपने ‘‘प्राकृतिक रणनीतिक साझेदार’’ भारत में निवेश करना जारी रखना चाहिए। उल्लेखनीय है कि दोनों देशों के बीच सुरक्षा संबंध इस समय इतिहास में अभी तक के सबसे मजबूत स्थिति में हैं। ‘सीनेट आर्मड सर्विज कमेटी’ के समक्ष नियुक्ति की पुष्टि संबंधी सुनवाई के दौरान रान्डेल श्राइवर ने कहा कि पिछले एक दशक के दौरान दोनों देशों के बीच संबंध महत्वपूर्ण रूप से मजबूत हुए हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं भारत के साथ हमारे बढ़ते रक्षा सहयोग से उत्साहित हूं।’’ श्राइवर ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि हमे अपने प्राकृतिक रणनीतिक साझेदार भारत में निवेश करना जारी रखना चाहिए।’’ उन्होंने कहा कि अमेरिका-भारत सुरक्षा संबंध इस समय इतिहास कि सबसे मजबूत स्थिति पर है और यह इस बात से प्रतिबंबित होता है कि अमेरिका ने 2016 में भारत को एक ‘महत्वपूर्ण रक्षा साझेदार’ नामित किया है।

सुनवाई के दौरान सवालों का लिखित जवाब देते हुए उन्होंने कहा, ‘‘भारत को 2016 में एक ‘महत्वपूर्ण रक्षा साझेदार’ के तौर पर नामित किया जाना, दर्शाता है कि हम एक लंबे एवं व्यापक सामरिक साझेदारी का निर्माण कर रहे हैं, और अगर मैं नियुक्त किया गया, मैं आगे भी इसे विकसित करने के लिए काम करूंगा।’’ उन्होंने कहा कि यह विशेष रूप से आवश्यक है कि दोनों देश क्षेत्रीय और वैश्विक सुरक्षा के मुद्दों पर अपना सहयोग बढ़ाएं।

उन्होंने कहा कि पिछले दशक में हमने अपने रक्षा व्यापार को बढ़ाने और विदेशी सैन्य विक्रय सहित अन्य प्रशासनिक मुद्दों पर महत्वपूर्ण प्रगति की है। श्राइवर ने कहा, ‘‘मजबूत साझेदारी बनाने में रक्षा व्यापार के महत्व को देखते हुए, यदि मेरी नियुक्ति की पुष्टि होती हैं, तो मैं यह देखूंगा कि रक्षा विभाग इस संबंध को और मजबूत बनाने के लिए क्या कर सकता है।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>