बॉयलर विस्फोट : मृतकों की संख्या बढ़ी, राहुल ने जाना पीड़ितों का हाल
By dsp bpl On 2 Nov, 2017 At 01:10 PM | Categorized As भारत | With 0 Comments

रायबरेली/लखनऊ। रायबरेली जिले के ऊंचाहार स्थित राष्ट्रीय ताप विद्युत निगम (एनटीपीसी) के संयंत्र का बॉयलर फटने से मरने वालों की संख्या बढ़कर आज सुबह 26 हो गयी है। बुधवार को इस हादसे के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात में जारी अपने चुनाव प्रचार अभियान ‘नवसृजन यात्रा’ को स्थगित कर दिया है और आज वह रायबरेली पहुंचे तथा पीड़ित परिवारों से मिले। रायबरेली उनकी मां, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का संसदीय क्षेत्र है।

वहीं इस वक्त मॉरिशस यात्रा पर गये हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर शोक जताते हुए मृतकों के परिजनों और घायलों के लिए सहायता राशि की घोषणा की है। चूंकि योगी देश में नहीं हैं, उनके स्थान पर उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा घायलों का हालचाल पूछने के लिए रायबरेली जाएंगे। हादसे के संबंध में आज सुबह पत्रकारों को जानकारी देते हुए लखनऊ में गृह विभाग के प्रधान सचिव अरविंद कुमार ने बताया कि बॉयलर फटने की घटना में बुधवार रात और 10 लोगों की मौत हो गयी। इसके साथ ही हादसे में मरने वालों की संख्या 26 हो गई है।

बुधवार देर शाम तक हादसे में 16 लोगों के मरने की पुष्टि हुई थी। रायबरेली के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डी.के. सिंह ने बताया कि हादसे में घायल करीब 60 लोगों का इलाज जिला अस्पताल तथा लखनऊ के ट्रामा सेंटर में चल रहा है।

इस बीच, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी घायलों का हाल लेने के लिए रायबरेली पहुंच गये हैं। उन्होंने घटना पर दुख जताते हुए पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है। वहीं रायबरेली से सांसद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने ऊंचाहार में हुए हादसे पर दुख जाहिर करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहा है कि वह पीड़ितों की हर संभव सहायता करें।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुर्घटना में हुई मौतों पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की आर्थिक मदद का ऐलान किया है। साथ ही गंभीर रूप से घायलों को पचास-पचास हजार रुपये तथा अन्य घायलों को पच्चीस-पच्चीस हजार रुपये आर्थिक मदद की घोषणा की है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऊंचाहार हादसे पर शोक जताया है। राष्ट्रपति भवन ने ट्वीट किया है, ‘‘रायबरेली पावरप्लांट के हादसे से गहरा दुःख हुआ है। शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदनाएं। सरकार घायलों की सहायता कर रही है—राष्ट्रपति कोवन्दि।’’

एनटीपीसी ने विस्फोट के कारणों का पता लगाने के लिए जांच शुरू कर दी है। केन्द्रीय बिजली मंत्री आर.के. सिंह ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में हादसे पर दुख जताते हुए लिखा है कि उन्होंने एनटीपीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक गुरदीप सिंह को तुरंत मौके पर जाने का निर्देश दिया है। मालूम हो कि बुधवार शाम ऊंचाहार स्थित एनटीपीसी के 500 मेगावाट क्षमता वाले संयंत्र का बॉयलर फटने से बड़ी संख्या में मजदूर घायल हो गए थे। घायलों में से अभी तक 26 लोगों के मरने की पुष्टि हुई है।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>