मुकुल रॉय ने हमें धोखा दिया, वह भाजपा को भी धोखा देंगे: NTC
By dsp bpl On 13 Oct, 2017 At 10:44 AM | Categorized As भारत, राजधानी | With 0 Comments

कोलकाता। राष्ट्रवादी तृणमूल कांग्रेस (एनटीसी) ने कहा कि वह तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के पूर्व नेता मुकुल रॉय पर एक राजनीतिज्ञ के रूप में भरोसा नहीं कर सकते है और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को पत्र लिखेंगे जिसमे उनसे उन्हें (मुकुल को) अपनी पार्टी में शामिल नहीं करने का आग्रह किया जायेगा। एनटीसी के अध्यक्ष अमिताभ मजूमदार ने कहा ‘‘एनटीसी उनके ‘‘दिमाग की उपज’’ है। उन्होंने सोचा था कि जब उन्हें तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पद से हटाया गया तो वह ममता बनर्जी को सबक सिखायेंगे लेकिन रॉय टीएमसी में वापस चले गये। उन्होंने हमारे पूरे नेतृत्व तथा हमारे समर्थकों को धोखा दिया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुकुल रॉय पर भरोसा नहीं किया जा सकता है। उन्होंने हम लोगों को धोखा दिया है और वह भाजपा को भी धोखा देंगे।’’ फरवरी 2015 में रॉय को महासचिव पद से हटाये जाने के बाद टीएमसी नेताओं का एक समूह पार्टी से दूर हो गया था और उन्होंने राष्ट्रवादी तृणमूल कांग्रेस (एनटीसी) के नाम से एक नयी पार्टी के पंजीकरण के लिए चुनाव आयोग से आवेदन किया था। एनटीसी ने 2016 विधानसभा चुनाव लड़ने का निर्णय लिया था लेकिन रॉय के टीएमसी में वापस लौटने और उन्हें उपाध्यक्ष नियुक्त किये जाने के बाद ऐसा नहीं हो सका।
मजूमदार ने कहा, ‘‘एनटीसी एक पंजीकृत पार्टी है लेकिन उसे अभी मान्यता नहीं मिली है क्योंकि उसने अभी कोई चुनाव नहीं लड़ा है। हम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को एक पत्र लिखेंगे और उनसे रॉय जैसे व्यक्ति को अपनी पार्टी में शामिल नहीं करने का आग्रह करेंगे।’’ रॉय से हालांकि इस संबंध में अभी प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी है। मजूमदार ने कहा, ‘‘हमें उनसे (राय से) न तो कोई अनुरोध मिला है और न ही हम उन्हें पार्टी में शामिल करेंगे।’’ तृणमूल कांग्रेस को छोड़ने और अपनी राज्यसभा सीट से इस्तीफा देने के एक दिन बाद रॉय ने कहा कि नयी पार्टी बनाये जाने की उनकी कोई योजना नहीं है।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>