नोटबंदी से नहीं हुआ कालाधन खत्म, माफी मांगें पीएम : कांग्रेस
By dsp bpl On 31 Aug, 2017 At 06:14 PM | Categorized As भारत | With 0 Comments

नई दिल्ली। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी से नोटबंदी पर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के आंकड़ों से बेमेल बयानबाजी का आरोप लगाते हुए माफी मांगने की अपील की है। पार्टी का आरोप है कि आरबीआई के अनुसार बंद किए गए 1000 के 99 फीसदी नोट वापस आ गए हैं जिसके बाद मोदी सरकार के कालेधन को खत्म करने का दावा झूठा साबित हो गया है।

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने गुरुवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा, ’15 अगस्त को प्रधानमंत्री ने बयान दिया था कि 3 लाख करोड़ का काला धन मिला है। उन्होंने झूठ बोला था। पीएम को गलती स्वीकार करनी चाहिए। सच को स्वीकार करना चाहिए।’ राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा ने कहा, ‘कहां गया वह 4-5 लाख करोड़ रुपया? हर कदम पर सरकार ने झूठ बोला। ग्रामीण बैंक से पैसा नहीं लिया गया। किसानों के साथ नाइंसाफी हुई। प्रधानमंत्री ने वादाखिलाफी की और आम लोगों को धोखा दिया। तय समय में भी लोगों से पैसा वापस ही नहीं लिया गया।’

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘देश में 96 फीसदी कैश लेन-देन होता है। जहां तक नकली नोटों की बात है, उन्होंने (सरकार) दावा किया कि 15 लाख 28 हजार वापस आ गया। रिजर्व बैंक ने कहा कि केवल 41 करोड़ नकली नोट हैं। इसके लिए भारत में आर्थिक अराजकता लाई गई। भारत की जीडीपी को बड़ा नुकसान हुआ। 1.5 प्रतिशत जीडीपी टूट गई। यह प्रधानमंत्री का निजी फैसला था। इनको उम्मीद थी कि बड़ा पैसा वापस नहीं आएगा| इसीलिए सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि टेरर फंडिंग का कम से कम 4-5 लाख करोड़ रुपया है जो वापस नहीं आएगा। आज सरकार इस पर क्या कहेगी?’

दूसरी ओर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने नोटबंदी के फायदे गिनाते हुए कहा, ‘नोटबंदी का उद्देश्य केवल कालाधन खत्म करना नहीं था बल्कि इससे और भी सुधार करने थे। नोटबंदी के जरिए डिजिटल ट्रांजैक्शन को बढ़ावा मिल रहा है।‘

उल्लेखनीय है कि आरबीआई ने साल 2016-17 की रिपोर्ट जारी कर बताया कि नोटबंदी के दौरान बैन किए गए 1000 रुपये के पुराने नोटों में से करीब 99 फीसदी बैंकिंग सिस्टम में वापस लौट आए हैं। 1000 रुपये के 8.9 करोड़ नोट (1.3 फीसदी) नहीं लौटे हैं। पिछले साल नवंबर में लागू की गई नोटबंदी के दौरान देश में प्रचलन में रहे 15.44 लाख करोड़ रुपये के प्रतिबंधित नोट में से 15.28 लाख करोड़ रुपये बैंकिंग सिस्टम में वापस लौट कर आ गए हैं।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>