किसानों से चर्चा कर बनेगा कृषि आय दुगना करने का रोडमैप: सीएम शिवराज
By dsp bpl On 31 Aug, 2017 At 06:17 PM | Categorized As राजधानी | With 0 Comments

सतना। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आगामी पांच वर्षों के भीतर किसानो की कृषि आय दुगनी की जाएगी। इसके लिये 15 सितम्बर से प्रदेशभर में विकासखण्ड स्तर पर किसानो के सम्मेलन में राय ली जाएगी और कृषि दुगनी करने का रोडमैप तैयार किया जाएगा। किसानों को विपरीत परिस्थितियों में भी उनकी कृषि उपज का मूल्य समुचित मिल सके, इसके लिये राज्य सरकार द्वारा भावान्तर योजना क्रियान्वित की जा रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह बातें गुरुवार को सतना जिले के नगर पंचायत क्षेत्र जैतवारा में आयोजित हितग्राही सम्मेलन सह कृषक संगोष्ठी को संबोधित करते हुए कही।

इस अवसर पर प्रदेश के उद्योग वाणिज्य खनिज साधन मंत्री राजेन्द्र शुक्ल, सांसद गणेश सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष सुधा सिंह, विधायक शंकरलाल तिवारी, नारायण त्रिपाठी, महापौर ममता पाण्डेय, पिछड़ा वर्ग वित्त विकास निगम के अध्यक्ष प्रदीप पटेल, विन्ध्य विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष सुभाष सिंह, भाजपा अध्यक्ष नरेन्द्र त्रिपाठी, कमिश्नर रीवा एसकेपॉल, आईजी अंशुमान सिंह यादव, कलेक्टर नरेश पाल, पुलिस अधीक्षक राजेश हिगंणकर, सीईओ जिला पंचायत अनूप कुमार सिंह भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने इ कहा कि खेती को लाभ का व्यवसाय बनाना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। प्रदेश के कुछ अंचलों में कम वर्षा होने से फसल खराब होने की चिंता करने की जरूरत नहीं है। सरकार किसानों को हर संकट से निजात दिलाएगी। किसानों के फायदे और उचित मूल्य दिलाने राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में भावांतर भुगतान योजना लागू की जा रही है। इस योजना में किसान द्वारा अधिसूचित कृषि उपज मण्डी में चिन्हित फसल बेचने पर राज्य सरकार द्वारा घोषित मॉडल विक्रय दर और केन्द्र द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य के अंतर की राशि किसानों को सरकार उनके खाते में जमा करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले तीन माह के भीतर सभी अविवादित नामांतरण बंटवारा और सीमांकन के प्रकरणो का निराकरण कर लिया जाएगा। इसके लिये राजस्व विभाग द्वारा पूरे प्रदेश में अभियान स्तर पर कार्यवाही की जा रही है। इसके बाद कोई पुराना लंबित प्रकरण की जानकारी देने वाले व्यक्ति को एक लाख रूपये का पुरूस्कार दिया जायेगा। यह राशि विलम्ब के लिये दोषी संबंधित अधिकारी-कर्मचारियों से वसूल की जाएगी। सतना जिले के चित्रकूट क्षेत्र को दस्युओं के आंतक से मुक्त करने और डकैतों के सफाये के लिये मुख्यमंत्री ने आईजी अंशुमान यादव और पुलिस अधीक्षक सतना राजेश हिंगणकर सहित पुलिस टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा कि हर क्षेत्र मे अच्छा काम करने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों को पुरस्कृत किया जाएगा। वहीं, गड़बड़ी करने वाले अकर्मण्य अमले को सेवा से पृथक करने की कार्रवाई भी अमल मे लाई जायेगी।

कार्यक्रम के प्रारंभ में मुख्यमंत्री ने कन्यापूजन कर सम्मेलन का शुभारंभ किया। उन्होंने इस अवसर पर चित्रकूट क्षेत्र मे पर्यटन की गतिविधियों के प्रोत्साहन के साथ ही युवा उद्यमियों के माध्यम से औद्योगिक क्षेत्र भी विकसित करने की बात कही। उन्होंने कहा कि शासकीय महाविद्यालय जैतवारा में बीएससी और बीकाम संकाय भी शुरू किये जाएंगे। जैतवारा नगर पंचायत क्षेत्र मे घर-घर नल कनेक्षन से पानी पहुॅचाने की कार्ययोजना के तहत डीपीआर  बनाने के निर्देश भी दिये। जैतवारा के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का उन्नयीकरण और आधुनिकीकरण किया जायेगा। जैतवारा की आबादी के हिसाब से जैतवारा मे मिनी स्टेडियम और ग्राम चंदई मे भी मिनी स्टेडियम बनाया जायेगा। जैतवारा मे सहकारी समिति का खाद विक्रय केन्द्र प्रारंभ किया जाएगा। जैतवारा को तहसील बनाने के संबंध मे संभावनाओ का परीक्षण कराने और बायपास के लिये जमीन की उपलब्धता का सर्वे करने के निर्देष भी मुख्यमंत्री ने दिये। मुख्यमंत्री ने बरौंधा मे आईटीआई खोलने, गलबल से परसदिया तक सडक़ और मेहुती सडक़ बनाने की घोषणा भी की। सम्मेलन मे मुख्यमंत्री ने नये भारत के निर्माण मे नया मध्यप्रदेष बनाने का संकल्प भी उपस्थित जनो को दिलाया।

मुख्यमंत्री ने जैतवारा के हितग्राही सम्मेलन सह कृषक संगोष्ठी के अवसर पर 10 करोड 58 लाख रूपये लागत के 6 कार्यो का लोर्कापण और शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने बताया कि पूरे मझगवां विकासखण्ड में जिला प्रशासन द्वारा 32 दल गठित किये जाकर प्रत्येक ग्राम पंचायत में शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों के लाभ सें वंचित हितग्राहियों का चिन्हाकन कर उन्हें लाभ प्रदाय किया जा रहा है।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>