इनामी कुख्यात बदमाश अनिल बावरिया गिरफ्तार
By dsp bpl On 27 Aug, 2017 At 01:27 PM | Categorized As भारत | With 0 Comments

नोएडा । थाना जेवर क्षेत्र के सबौता गांव के पास बीते 24 मई को हुई लूटपाट, सामूहिक बलात्कार और हत्या के मामले में पश्चिमी उप्र एसटीएफ ने 12000 रुपये के इनामी कुख्यात बदमाश अनिल बावरिया को गिरफ्तार किया है । उसके पास से पुलिस ने 1 इनोवा कार ,तमंचा आदि बरामद किया है । बावरिया पर उत्तर प्रदेश ,मध्य प्रदेश ,राजस्थान में लूटपाट के कई मामले चल रहे हैं।

पश्चिमी उप्र एसटीएफ के एसपी राजीव नारायण मिश्रा ने बताया कि 24 मई की रात को थाना जेवर क्षेत्र के सबौता गांव के पास सड़क पर साइकिल का एक्सल फेंककर बावरिया गैंग ने एक परिवार की कार रोक ली थी। बदमाशों ने परिवार की चार महिलाओं के साथ हथियार के बल पर सामूहिक दुष्कर्म किया। विरोध करने पर परिवार के एक सदस्य को गोली मारकर उसकी हत्या कर दी थी । बदमाश मौके से नगदी जेवरात आदि लूट गए थे ।

एसपी ने बताया कि इस घटना को अंजाम देने वाले अनिल बावरिया की गिरफ्तारी पर आईजी जोन मेरठ की तरफ से ₹12000 का इनाम घोषित था ।बीती रात को एसटीएफ के डिप्टी एसपी राजकुमार मिश्रा की टीम ने जनपद हापुड़ क्षेत्र से कुख्यात बावरिया को गिरफ्तार किया है। इसके ऊपर उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश में लूटपाट, हत्या, डकैती, बलात्कार के दर्जनों मामले दर्ज़ हैं । इस गैंग के कुछ सदस्य फरार हैं जिनकी पुलिस तलाश कर रही है एस पी ने बताया कि वर्ष 2000 में इस बदमाश ने अपने 15 साथियों के साथ जनपद मुरादाबाद में एक डॉक्टर और सर्राफा व्यापारी के घर डाका डालकर करोड़ों की लूट की थी। इस घटना में इन्होंने डॉक्टर को गोली मारकर घायल कर दिया था। वर्ष 2003 में मझोला थाना क्षेत्र मुरादाबाद में इन लोगों ने हाईवे पर दो व्यापारियों से लूटपाट की थी।

उन्होंने घर की महिलाओं के साथ अभद्रता की तथा विरोध करने पर दोनों व्यापारियों को गोली मारकर उनकी हत्या कर दी उनके पास रखे करोड़ों के हीरे के जेवरात व गहने लूट लिए थे। वर्ष 2004 में जनपद मथुरा के थाना मुगरा क्षेत्र में हाईवे पर बबूल का पेड़ काटकर बदमाशों ने डाल दिया था। इन बदमाशों ने पांच गाड़ियों को लूटा और विरोध करने पर दो व्यक्तियों को गोली मार दी जिसमें एक की मृत्यु हो गई थी।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>