दिल्ली समेत 7 राज्यों के भाजपा सांसदों से मिले प्रधानमंत्री
By dsp bpl On 31 Jul, 2017 At 02:46 PM | Categorized As भारत | With 0 Comments

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, जम्मू कश्मीर, चंडीगढ़, और उत्तराखंड के भाजपा सांसदों से मुलाकात कर उनके संसदीय क्षेत्र में केंद्रीय योजनाओं की स्थिति और विकास कार्यों पर चर्चा की।

सोमवार को अपने आधिकारिक आवास 7 लोक कल्याण मार्ग पर सुबह के नाश्ते की मेज पर हुई पार्टी सांसदों से इस मुलाकात में प्रधानमंत्री ने दिल्ली समेत सातों राज्यों के सांसदों के साथ विचार विमर्श किया। इस बैठक में प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री डॉ जितेन्द्र सिंह, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन भी शामिल रहे। बैठक का संचालन संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने किया।

बैठक में भाजपा सांसदों ने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा विगत तीन सालों में गाँव, गरीब और किसान की जिंदगी में बदलाव लाने के लिए जो नई पहल की गई है और गरीब-कल्याण की नीतियों को जो गति दी है, उन कल्याणकारी योजनाओं का जन-मानस में गहरा प्रभाव है। उपस्थित सांसदों ने प्रधानमंत्री को फसल बीमा योजना, मुद्रा योजना, मृदा स्वास्थ्य कार्ड और अन्य योजनाओं के बारे में अपने सुझाव भी दिए।

प्रधानमंत्री ने सांसदों से बातचीत में बताया कि वर्तमान राजनीति में जो बदलाव आया है, उस परिदृश्य को पहचानना जरूरी है। उन्होंने कहा कि ऐसे समय में जब राजनीतिक स्पर्द्धा तेजी से बढ़ रही है, तब सांसदों के लिए एक जन प्रतिनिधि के रूप में विविध जन-समूहों के साथ जुड़कर जनकल्याणकारी कार्यों को करने के लिए अधिक से अधिक सक्रिय होना चाहिए।

बैठक में मोदी ने भारत छोड़ो आन्दोलन के 75 वर्ष का सन्दर्भ देकर कहा कि 15 से 30 अगस्त तक देशभर में तिरंगा-संकल्प यात्रा करें, और देश के नागरिकों को अगले 5 साल में भारत को विकास के हर क्षेत्र में नई ऊँचाई तक ले जाने के लिए अपना सक्रिय योगदान देने का संकल्प करें। इसके अलावा, केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं और कार्यक्रमों से जन-मानस में वर्तमान केंद्र सरकार के प्रति जो भरोसा बना है, उसे अधिक से अधिक व्यापक स्तर पर ले जाने के लिए प्रधानमंत्री ने उपस्थित सांसदों का मार्गदर्शन किया।

राज्यसभा में उठा दार्जिलिंग मामला

 संसद के मॉनसून में सोमवार को भी राज्यसभा में सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच घमासान जारी है। एक ओर जहां कांग्रेस गुजरात विधायकों के खरीद फरोख्त मामला उठाया वहीं एनसीपी नेता माजिद मेनन ने दार्जिलिंग का मुद्दा सदन में उठाया। माजिद मेनन ने कहा, ‘राज्य और केंद्र के असफलता के चलते दार्जिलिंग जैसा खूबसूरत पर्यटन स्थल जल रहा है। वहां की प्रसिद्ध चाय भी मार्किट में ऑक्शन के लिए इस बार नहीं आई है।‘

समाजवादी पार्टी सांसद जया बच्चन ने कैशलेस इकोनॉमी पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘हम कैशलेस इकोनॉमी की बात करते हैं और मशीन के इंस्टॉलेशन में बड़े चार्ज लगाए गए हैं जिससे मुश्किल आ रही है। सरकार को इस सम्बंध में कदम उठाने चाहिए तभी डिजिटल इकनॉमी का स्वप्न पूर्ण होगा। इसको लेकर आमजन को भी जागरूक करना चाहिए।‘ सवाल का जवाब देते हुए सरकार की तरफ से केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सरकार इसकी तरफ बड़े कदम उठा रही हैं, भीम एप्प के माध्यम से बड़ी सफलता भी अर्जित की है। सरकार जया जी के सुझावों पर भी विचार करेगी ।

इससे पहले कांग्रेस सांसद मधुसूदन मिस्त्री ने गुजरात विधायकों के खरीद फरोख्त मामले को उठाने के लिए नोटिस दिया। कांग्रेस ने इसके लिए बाकायदा राज्यसभा में व्हिप जारी किया। सदन की कार्यवाही के दौरान गुजरात विधायकों के खरीद फरोख्त मामले को लेकर विपक्ष ने वेल में आकर जमकर हंगामा किया जिसके बाद कार्य़वाही 11:40 बजे तक स्थगित कर दी गई थी।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>