इंद्राणी मुखर्जी के खिलाफ मामला दर्ज, जेल में दंगा भड़काने का मामला
By dsp bpl On 26 Jun, 2017 At 02:08 PM | Categorized As भारत | With 0 Comments

मुंबई। बायकुला जेल में एक महिला कैदी की मौत के बाद शीना बोहरा हत्या मामले की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी सहित करीब 200 कैदियों के खिलाफ दंगा भड़काने और अन्य अपराधों के लिए मामला दर्ज किया गया है। कैदी मंजू गोविंद शेटे की शुक्रवार रात को सरकारी जेजे अस्पताल में मौत हो गयी थी। आरोप है कि जेल की एक महिला अधिकारी ने कथित तौर पर पिटाई उसकी की थी। इसके बाद, जेल में छह कर्मियों को निलंबित कर दिया गया और रविवार को पुलिस ने उनके खिलाफ भादंसं की धारा 302 (हत्या के लिए सजा) के तहत एक मामला दर्ज किया।

शेटे की मौत के बाद, शनिवार की सुबह से जेल की 200 से अधिक महिला कैदी उत्पात मचा रही थीं। एक पुलिस अधिकारी ने बताया था कि शनिवार को कुछ कैदी जेल की छत पर चढ़ गये और अखबार जला डाले। उन्होंने बताया कि कैदियों ने आरोप लगाया कि जेल की एक महिला अधिकारी ने शेटे की पिटाई की। वे मामले की जानकारी मीडिया तक पहुंचाना चाहते थे, लेकिन जेल नियमों के तहत इसकी इजाजत नहीं थी।

एक पुलिस अधिकारी ने आज बताया कि बायकुला जेल में बंद इंद्राणी सहित 200 कैदियों के खिलाफ रविवार को भारतीय दंड संहिता के तहत दंगा फैलाने, गैर-कानूनी तरीके से एकत्र होने, सरकारी कर्मचारी पर हमला करने और अन्य संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया। जेल में करीब 251 महिला कैदी हैं। इंद्राणी पर अपने पूर्व पति संजीव खन्ना और पूर्व ड्राइवर श्यामवर राय के साथ मिलकर 24 अप्रैल 2012 को अपनी 24 वर्षीय बेटी की हत्या करने का आरोप है। शीना का जला हुआ शव मुंबई के नजदीक रायगढ़ जिले के एक जंगल में एक बैग में पड़ा हुआ मिला था।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>