Home विज्ञान भारत में मोबाइल सब्सक्राइबर की संख्‍या पहुंची 119 करोड़ के पार

भारत में मोबाइल सब्सक्राइबर की संख्‍या पहुंची 119 करोड़ के पार

39
0

mobile subscriberदेश में टेलिकॉम सब्सक्राइबर्स की संख्या अप्रैल में 1198.89 मिलियन तक पहुंच गई है। लेकिन रिलायंस जियो के साथ अभी जो नए यूजर्स जुड़ रहे हैं उसमें गिरावट जारी है। ट्राई ने अपनी एक मासिक सब्सक्राइबर रिपोर्ट में बताया, “भारत में टेलिफोन सब्सक्राइबर्स की संख्या 1194.58 मिलियन ( मार्च 2017 के आखिरी तक) से बढ़कर अप्रैल 2017 के आखिरी तक 1198.89 मिलियन हो गई है। ऐसे में देखा जाएगा प्रति महीने इस संख्या में 0.36 फीसद की बढ़ोतरी हो रही है”।

मोबाइल सब्सक्राइबर्स बेस में बढ़ोतरी
कुल वायरलेस या मोबाइल सब्सक्राइबर्स बेस की संख्या में 0.38 फीसद बढ़ोतरी हुई है जिसके चलते 1,170.18 मिलियन यूजर्स (मार्च 2017) से अप्रैल में 0.38 फीसद यूजर्स बढ़कर 1,174.60 मिलियन हो गए। अगर आंकड़ों पर गौर किया जाए तो अक्टूबर में दर्ज की गई 2.67 की बढ़ोतरी पिछले सात महीने के निचले स्तर पर है। ये वही समय है जब रिलायंस जियो अपने साथ 19.6 मिलियन यूजर्स को जोड़ा था।

सब्सक्राइबर घटे लेकिन जियो फिर भी टॉप पर
अपनी फ्री 4जी सर्विस को खत्म करने के बाद भी रिलयांस जियो ने ग्राहक अधिग्रहण के मामले में अपना नेतृत्व बरकरार रखा है। कंपनी ने अप्रैल में अपने साथ 87 फीसद यूजर्स को जोड़ा है। कंपनी के कुल सब्सक्राइबर्स में बढ़ोतरी देखी गई है। हालांकि, दिसंबर 2016 में कंपनी ने 20.2 मिलियन नए यूजर्स को अपने साथ जोड़ा था जो संख्या अप्रैल में 3.87 मिलियन रह गई है। वहीं, अगर भारती एयरटेल की बात की जाए तो यह कंपनी इस मामले में दूसरे स्थान पर है। एयरटेल ने अप्रैल में 2.85 नए मोबाइल यूजर्स को अपने साथ जोड़ा है। इसके अलावा बीएसएनएल ने 0.81 मिलियन, वोडाफोन ने 0.75 मिलियन और आइडिया ने 0.68 मिलियन यूजर्स को अपने साथ जोड़ा है।

टाटा टेलिसर्विस सबसे नीचे
इस मामले में टाटा टेलिसर्विस बिल्कुल निचले स्तर पर रही। इस कंपनी को 1.46 मिलियन यूजर्स का नुकसान हुआ है। यानि इतने यूजर्स टाटा को छोड़ा दूसरी कंपनियों के साथ जुड़े हैं। इसके अलावा रिलायंस कम्यूनिकेशन के 1.32 मिलियन यूजर्स, एयरसेल के 0.33 मिलियन यूजर्स, सिसटेमा श्याम के 0.27 मिलियन यूजर्स और एमटीएनएल के 2137 यूजर्स ने कंपनी का साथ छोड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here