Home मध्यप्रदेश साथियों पर कार्रवाई से भड़के हड़ताली किसानों ने घेरा कनाड़िया थाना

साथियों पर कार्रवाई से भड़के हड़ताली किसानों ने घेरा कनाड़िया थाना

46
0

इंदौर। किसानों के आंदोलन के दौरान सड़कों पर सब्जियां और दूध फेंकने के साथ ही कुछ लोगों के साथ मारपीट के मामले भी सामने आए। ऐसे में जहां राऊ पुलिस ने चार आंदोलनकारियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया, वहीं कनाड़िया पुलिस ने सात आंदोलनकारियों पर कार्रवाई करते हुए उन्हें हिरासत में ले लिया। इसके चलते शुक्रवार सुबह सैकड़ों किसानों ने कनाड़िया थाने का घेराव कर हंगामा कर दिया। किसानों के हंगामे की सूचना मिलते ही पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी यहां पहुंच गए थे।

जानकारी के अनुसार गुरुवार रात कनाड़िया पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सात आंदोलनकारियों को हिरासत में लिया था। इसकी जानकारी शुक्रवार सुबह आंदोलन करने वाले किसानों को मिली तो वे एकत्रित होकर थाने जा पहुंचे। करीब 500 किसान यहां पर पहुंचे थे। उनका कहना था कि किसान भी हमारे हैं और दूध वाले भी किसान ही हैं, जो हमारे अपने हैं। हम उनके हित में आंदोलन कर रहे हैं। ऐसे मेें पुलिस ने बेवजह हमारे साथियों के खिलाफ कार्रवाई की है। उनका आरोप था कि पुलिस ने जिन लोगों को पकड़ा है उनके साथ रात में थाने में मारपीट भी की गई है।

थाने के घेराव और हंगामे के दौरान किसानों ने यहां पर जमकर नारेबाजी भी की। उधर, जैसे ही किसानों के द्वारा थाने का घेराव और हंगामे की सूचना मिली तो पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी यहां पहुंच गए थे। अधिकारियों ने किसानों ने समझाइश दी, लेकिन वे कुछ भी मानने को तैयार नहीं थे। समाचार लिखे जाने तक थाने पर किसानों की भीड़ जमा थी।

दूध को लेकर दो पक्षों में मारपीट

हड़ताल के दूसरे दिन ही दूध को लेकर शहरभर में स्थिति बिगड़ती जा रही है। कल रात दूध को लेकर पक्षों में विवाद और मारपीट हो गई तभी एक पक्ष ने वहां से निकल रहे दो छात्रों पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया । मामले में पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है ।

घटना पलासिया थाना क्षेत्र के संविद नगर की है । यह दूध लेने के लिए लाइन लगी थी जहां दो पक्षों में विवाद हो गया। उसी दौरान वह बाइक से रुचिन्द्र राणा और उसका भाई निकले तो विवाद कर रहे एक पक्ष ने उन्हें पीट दिया । हमले में रुचिन्द्र को सिर में गंभीर चोट आई है । मामले में पलासिया पुलिस ने रुचिन्द्र की रिपोर्ट पर प्रकरण दर्जकर जांच शूरू कर दी है ।

यहां भी दूध के लिए विवाद, मारपीट

एक ओर जहां किसानों के आंदोलन के चलते सब्जियों के लिए शहरवासी परेशान हो रहे हैं, वहीं सबसे अधिक परेशानी दूध के लिए हो रही है। जहां दुकानों पर दूध मिलने की सूचना मिली नहीं कि भीड़ उमड़ते देर नहीं लगती है। इस दौरान विवाद भी हो रहे हैं। आज सुबह पालदा नाका क्षेत्र में एक दुकान पर दूध लेने वालों की भीड़ के दौरान विवाद हो गया और नौबत मारपीट तक जा पहुंची। इस दौरान सूचना मिलते ही पुलिस पहुंची और मामला शांत कराया। उधर, शहर के अनेक क्षेत्रों में पुलिस के साए में दुकानदारों ने दूध बेचा।

हड़ताल के बीच खेल रहे थे जुआ

चोइथराम मंडी में यहां हड़ताल के बीच जुआ खेल रहे सुनील, रजत, गर्वित व कालू को राजेंद्र नगर पुलिस ने गिरफ्तार कर इनके पास से नकदी और ताश के पत्ते बरामद किए हैं। आरोपियों के खिलाफ जुआ एक्ट के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here