Home भारत योगी राम लला के दरबार में, अयोध्या से लड़ सकते हैं उपचुनाव

योगी राम लला के दरबार में, अयोध्या से लड़ सकते हैं उपचुनाव

53
0
फैजाबाद। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज अयोध्या में राम जन्मभूमि स्थित मंदिर में राम लला के दर्शन किये और हनुमानगढ़ी में पूजा अर्चना की। मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी का यह पहला अयोध्या दौरा है। योगी के दौरे के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के कड़े प्रबंध किये गये हैं। सुबह फैजाबाद पहुंचने के बाद योगी सबसे पहले हनुमानगढ़ी गये क्योंकि ऐसी मान्यता है कि राम लला के दर्शन से पहले हनुमानगढ़ी में पूजा अर्चना करना आवश्यक है। मुख्यमंत्री ने बाद में सरयू नदी के तट पर जाकर पूजा अर्चना भी की।
अयोध्या में योगी से मिलने के लिए साधु-संतों का जमावड़ा रहा। योगी जिस मार्ग से गुजर रहे थे वहां लोगों की भारी भीड़ थी और लोग योगी-योगी के नारे लगा रहे थे। सड़कों पर हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता भी उल्लास मनाते देखे गये।
विवादित ढांचा गिराये जाने के बाद यह दूसरा अवसर है जब उत्तर प्रदेश का कोई मुख्यमंत्री राम लला के दर्शन कर रहा है इससे पहले सन 2002 में तत्कालीन मुख्यमंत्री राजनाथ सिंह ने राम लला के दर्शन किये थे।
इस बीच, सूत्रों का कहना है कि योगी अयोध्या से ही विधानसभा का उपचुनाव लड़ सकते हैं। अभी वह गोरखपुर के सांसद हैं और मुख्यमंत्री बनने के छह महीने के भीतर उन्हें विधान मंडल के किसी सदन की सदस्यता हासिल करना जरूरी है। भाजपा साफ कर चुकी है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य विधानसभा का उपचुनाव लड़ेंगे। हाल ही में योगी सरकार ने अयोध्या के विकास से संबंधित कई फैसले किये हैं।
एक दिन पहले ही बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में भाजपा के शीर्ष नेताओं के खिलाफ आपराधिक साजिश रचने के आरोप तय किए गए थे। मंगलवार को लखनऊ में सीबीआई की विशेष अदालत ने वर्ष 1992 के बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में भाजपा के दिग्गज नेताओं लालकृष्ण आडवाणी, एमएम जोशी, केंद्रीय मंत्री उमा भारती और नौ अन्य लोगों के खिलाफ आरोप तय किए थे। आडवाणी के अदालत पहुंचने से पहले आदित्यनाथ ने लखनऊ स्थित वीवीआईपी गेस्ट हाउस में उनसे मुलाकात की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here