Home राजधानी व्यापमं में फिर सामने आया फर्जीवाड़ा

व्यापमं में फिर सामने आया फर्जीवाड़ा

52
0

भोपाल। मध्यप्रदेश का व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) परीक्षाओं और भर्तियों में हुए फर्जीवाड़ों के कारण पिछले कुछ सालों से सुर्खियों में रहा है। इसीलिए इसका नाम बदलकर प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड कर दिया गया। इसके बावजूद यहां फर्जीवाड़े पर रोक नहीं लग पाई है। ऐसा ही एक मामला फिर सामने गया है। बताया जा रहा है कि परीक्षा में धांधली कर मुन्नाभाइयों ने एक बार फिर सारी व्यवस्थाओं को धता बताते हुए 11 उम्मीदवारों को पुलिस आरक्षक के लिए चयनित करवा दिया है।

दरअसल, प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड ने पिछले साल पुलिस कॉन्स्टेबल परीक्षा का आयोजन किया गया था। कुल सात जिलों में ऐसे अभ्यर्थी सामने आए है, जिन्होंने मुन्नाभाइयों से परीक्षा दिलवाई, फिटनेस खुद दिया और आरक्षक के लिए चयनित भी हो गए। इनमें दतिया, छिंदवाड़ा, सतना, उज्जैन, इंदौर के साथ 9वीं बटालियन रीवा और 36वीं बटालियन बालाघाट के उम्मीदवार शामिल हैं। पुलिस की चयन एवं भर्ती शाखा ने सभी 11 फर्जी उम्मीदवारों के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई के आदेश भी जारी कर दिए गए हैं। बता दें कि आरक्षक भर्ती परीक्षा के दौरान ही 70 मुन्नाभाई पकड़े गए थे।

पुलिस आरक्षक भर्ती में इस बार बड़े पैमाने पर फिंगर प्रिंट मिलान नहीं होने के चलते पसोपेश की स्थिति रही। फिटनेस के दौरान ऐसे अभ्यर्थियों की संख्या 320 थी, जिनके फिंगर प्रिंट मिलान नहीं हुए। इन अभ्यर्थियों को दोबारा मौका दिया गया। इनमें भी 150 उम्मीदवारों के फिंगर प्रिंट नहीं मिले। इसके बाद जिलों में एक बार फिर फिंगर प्रिंट मिलान के लिए शेष उम्मीदवारों के फिंगर प्रिंट लेने को कहा गया। व्यापमं से मूल रिकॉर्ड मंगवाया गया जिसमें फिंगर प्रिंट और राइटिंग का रिकॉर्ड था। इसे जिलों में भेजा गया जहां इन 11 लोगों के फिंगर प्रिंट परीक्षा देने वाले फिंगर प्रिंट से अलग थे।

बताया जा रहा है कि चयनित उम्मीदवारों के फिंगर प्रिंट मिलान करने को लेकर रीवा जिले को पुलिस मुख्यालय से अभ्यर्थी का भेजा गया मूल रिकॉर्ड ही गायब हो गया। इसमें तीन संदिग्ध उम्मीदवारों के व्यापमं से मंगवाए ओरिजनल दस्तावेज थे। इसे लेकर पुलिस मुख्यालय ने रीवा एसपी को तलब किया है। वहीं, चयन एवं भर्ती विभाग के आईजी धर्मेन्द्र सिंह छाबई का कहना है कि इन सभी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश संबंधित जिलों के एसपी को भेज दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here