‘अमूल’ की नजर वित्तवर्ष 2018-19 में देश की सबसे बड़ी एफएमसीजी कंपनी बनने पर
By dsp bpl On 14 May, 2017 At 01:04 PM | Categorized As Uncategorized | With 0 Comments

Amulcompanyकोलकाता । गुजरात कॉपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन लि. (जीसीएमएमएफ) को वित्तवर्ष 2017-18 में बिक्री में 20 फीसदी की बढ़ोतरी की उम्मीद है और आगामी चार-पांच साल के दौरान उसका 50,000 करोड़ रुपए बिक्री का लक्ष्य है। कंपनी अमूल ब्रांड के नाम से दूध और दूध के उत्पाद बनाती है।

गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन संघ लिमिटेड (जीसीएमएमएफ) के प्रबंध निदेशक आरएस सोढी ने बताया कि देश भर में नए दूध संयंत्र स्थापित अगले तीन सालों में 2,500 करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा। सोढी ने वर्ष 2021 तक अमूल का 50,000 करोड़ रुपए का बिक्री लक्ष्य रखते हुए कहा कि इस दौरान उसके दूध उत्पादन में सालाना 14 प्रतिशत दर से वृद्धि की उम्मीद है जबकि इस दौरान मूल्य वृद्धि 6 से 7 प्रतिशत रहने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि कंपनी का इरादा हिन्दुस्तान यूनीलीवर को पीछे छोड़ वित्तवर्ष 2018-19 में देश की सबसे बड़ी एफएमसीजी कंपनी बनने की है।

सोढ़ी ने बताया, “बिक्री में 20 फीसदी की बढ़ोतरी के लिए हमें गुजरात से बाहर भी दूध खरीद को बढ़ाना होगा। हम रोजाना 200 लाख लीटर दूध खरीदते हैं, जिसमें 15 फीसदी खरीद गुजरात से बाहर की जाती है।” गुजरात के अलावा कंपनी राजस्थान, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, पंजाब, पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र से दूध खरीदती है और जल्द ही बिहार व झारखंड से भी खरीद शुरू करनेवाली है।

उन्होंने बताया, “हम तमिलनाडु और केरल के बाजार में जाने की योजना बना रहे हैं। हम हर साल 800 करोड़ रुपये का निवेश करेंगे और कुल 2,500 करोड़ का निवेश करेंगे।”

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>