गार्ड ऑफ ऑनर के साथ शहीद का अंतिम संस्कार, उमड़ा जनसैलाब
By dsp bpl On 13 May, 2017 At 03:01 PM | Categorized As मध्यप्रदेश, राजधानी | With 0 Comments

बैतूल। कश्मीर में आंतकी हमले में शहीद हुए बैतूल के लाल सीआरपीएफ जवान अनिल अडलक का शनिवार दोपहर को गार्ड ऑफ आनर के साथ कोठी बाजार मोक्षधाम में अंतिम संस्कार किया गया। अंत्येष्टी के पूर्व भोपाल से आयी सीआरपीएफ की टुकड़ी ने शहीद जवान को गार्ड ऑफ ऑनर देकर श्रद्धांजली दी। शहीद जवान को श्रद्धांजली देने अंतिम यात्रा में जन सैलाब उमड़ पड़ा। मध्यप्रदेश शासन की ओर से बैतूल जिले के प्रभारी मंत्री लाल सिंह आर्य ने शहीद जवान की पार्थिव देह पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजली दी।

सीआरपीएफ में पदस्थ जिला मुख्यालय बैतूल के हमलापुर निवासी अनिल अड़लक की कश्मीर में आतंकी हमले में मौत होने की खबर से परिजनों सहित जिलेवासियों में शोक की लहर दौड़ गई थी। शनिवार अलसुबह सीआरपीएफ के भोपाल हेडक्वाटर जवानों की टुकड़ी शहीद के शव को लेकर उसके घर पहुंचे तो परिजन फूट-फूटकर रो पड़े। शहीद जवान की पत्नी और दो मासूम बच्चों के आंसू नहीं थम रहे थे। वहां मौजूद हर व्यक्ति की आंखे नम थी। शनिवार सुबह बैतूल विधायक हेमंत खंडेलवाल, कलेक्टर शशांक मिश्र और एस.पी. राकेश जैन ने पुष्प चक्र अर्पित कर शहीद को श्रद्धांजली देकर परिजनों को सांत्वना दी।

सुबह 9 बजे हमलापुर तुलसीनगर स्थित निवास से शहीद की अंतिम यात्रा शुरू हुई जो नगर के मुख्य मार्गो से होते हुए दोपहर 12 बजे कोठी बाजार मोक्षधाम पहुंची। जहां प्रभारी मंत्री लाल सिंह आर्य ने पुष्प चक्र अर्पित कर शहीद जवान को श्रद्धांजली दी। दस वर्ष के मासूम बेटे हेमंत ने शहीद जवान अनिल को मुखाग्नि दी।

जिले के प्रभारी मंत्री लाल सिंह आर्य ने शहीद जवान को श्रद्धांजली देते हुए कहा कि देश की रक्षा करते हुए आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवान अनिल के चरणों में वे नमन करते हैं। उन्होने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार शहीद जवान के परिजनों की हर संभव मदद करेगी। प्रभारी मंत्री की मध्यप्रदेश सरकार द्वारा शहीद जवानों की मदद के लिए जो भी प्रावधान किये गये हैं उसके तहत आश्रित को अनुकम्पा नियुक्ति, मकान या प्लाट आर्थिक सहायता सहित अन्य सहायता प्रदान की जायेगी।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>