Home राजधानी हड़ताली कर्मियों को नहीं लिया काम पर, कंपनी को अल्टीमेटम

हड़ताली कर्मियों को नहीं लिया काम पर, कंपनी को अल्टीमेटम

52
0

भोपाल। एम्बुलेंस सेवा 108 के हड़ताली कर्मचारियों को जिगित्जा हेल्थ केअर ने अभी तक काम पर नहीं लिया है। कंपनी के इस रवैए पर नाराजी जताते हुए स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह ने कर्मचारियों को 24 घंटे में ड्यूटी पर लेने के लिए अल्टीमेटम दिया है।

108 एंबुलेंस सेवा के पायलट और ईएमटी नियमितीकरण, काम के घंटे नियमानुसार करने तथा ओवरटाइम दिए जाने जैसी मांगों को लेकर 26 अप्रैल से हड़ताल पर चले गए थे। करीब 11 दिनों तक हड़ताल पर रहने के बाद सहायक श्रमायुक्त की मध्यस्थता से कर्मचारियों ने हड़ताल वापस ले ली थी।

उस समय कर्मचारियों का उनकी ड्यूटी के घंटे 12 से घटाकर 8 किए जाने का आश्वासन दिया गया था1 लेकिन जब कर्मचारी काम पर लौटे, तो कंपनी ने उन्हें ड्यूटी पर नहीं लिया।

108 एंबुलेंस कर्मचारी संघ के मीडिया प्रभारी असलम खान का कहना है कि जिगित्जा कंपनी ने काम पर लौटे कर्मचारियों से एक शपथपत्र भरने को कहा। जब कर्मचारियों ने मना कर दिया, तो कंपनी ने उन्हें काम पर नहीं लिया।

कर्मचारियों का कहना है कि जिगित्जा कंपनी कर्मचारियों से 12 घंटे ही काम लेने पर अड़ी हुई है और इसी के लिए शपथपत्र भराना चाहती थी। वह न राज्य सरकार की बात मान रही है, न ही श्रमायुक्त की।

कंपनी की हठधर्मी को देखते हुए प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह ने 24 घंटे में कर्मचारियों को काम पर लिए जाने की चेतावनी दी है। इसके साथ ही उन्होंने चेतावनी को गंभीरता से न लेने पर कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की बात भी कही है।

इधर, इस बारे में जिगित्जा कंपनी के सीईओ मनीष संचेती का कहना है कि कंपनी कर्मचारियों को उनकी नौकरी के साथ अन्य सुविधाएं भी देंगी। जहां तक पायलटों के लिए 12 घंटे ड्यूटी की बात है, तो वह मोटर वीइकल एक्ट के अनुरूप ही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here