ट्रंप ने एफबीआई निदेशक जेम्स कोमी को बर्खास्त किया
By dsp bpl On 10 May, 2017 At 11:17 AM | Categorized As विश्व | With 0 Comments

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एफबीआई निदेशक जेम्स कोमी को बर्खास्त कर दिया गया है। कोमी इस संबंध में जांच का नेतृत्व कर रहे थे कि ट्रंप की चुनाव प्रचार मुहिम का संबंध अमेरिकी चुनाव में रूस के कथित हस्तक्षेप से है या नहीं। ट्रंप ने एक पत्र में कोमी ने कहा कि वह ब्यूरो का प्रभावशाली रूप से नेतृत्व करने के लिए अब सक्षम नहीं हैं और इसमें ‘‘लोगों का विश्वास’’ पुन: कायम करना आवश्यक है।

उन्होंने कहा, ‘‘इस कारण से आपको तत्काल प्रभाव से बर्खास्त किया जाता है और कार्यालय से हटाया जाता है।’’ यह आश्चर्यजनक कदम ऐसे समय में उठाया गया है जब कुछ ही दिन पहले कोमी ने चुनाव में रूसी हस्तक्षेप और रूस एवं ट्रंप की मुहिम के बीच संभावित साठ गांठ पर एफबीआई की जांच के बारे में कैपिटोल हिल के समक्ष बयान दिया था। ट्रंप ने पत्र में यह स्वीकार किया कि कोमी ने ‘‘तीन अलग अलग मौकों पर’’ उन्हें सूचित किया था कि वह जांच के दायरे में नहीं हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं फिर भी न्याय विभाग के इस फैसले से सहमत हूं कि आप ब्यूरो का प्रभावशाली नेतृत्व करने में सक्षम नहीं हैं।’’
व्हाइट हाउस ने कहा कि नए एफबीआई निदेशक की तलाश तत्काल आरंभ होगी। प्रेस सचिव सीन स्पाइसर ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘राष्ट्रपति ने बर्खास्तगी को लेकर अटॉर्नी जनरल (जेफ सेशंस) और डिप्टी अटॉर्नी जनरल (रोड रोसेनस्टीन) की सिफारिशों को स्वीकार कर लिया है।’’ व्हाइट हाउस द्वारा जारी एक बयान में ट्रंप ने कहा, ‘‘एफबीआई हमारे देश की सबसे सम्मानजनक संस्थओं में से एक है और कानून प्रवर्तन की हमारी अहम संस्था की आज नई शुरूआत होगी।’’ कोमी ने वर्ष 2016 के राष्ट्रपति पद के चुनावों में उस समय विवाद शुरू कर दिया था जब उन्होंने हिलेरी क्लिंटन के ईमेल इस्तेमाल की फिर से जांच का खुलासा किया था। डेमोक्रेट पार्टी के सदस्यों ने दावा किया था कि इस खुलासे ने हिलेरी के राष्ट्रपति बनने के अवसरों को नुकसान पहुंचाया। डिप्टी अटॉर्नी जनरल रोड रोसेनस्टीन ने ट्रंप को एक पत्र लिखकर हिलेरी के संबंध में जांच को लेकर कोमी की आलोचना की। उन्होंने जांच परिणाम की घोषणा के लिए संवाददाता सम्मेलन आयोजित करने और हिलेरी के बारे में ‘‘आपत्तिजनक सूचना’’ जारी करने के निर्णय को लेकर कोमी की आलोचना की।
सेशंस ने एक अन्य पत्र में कहा कि वह अपने मूल्यांकन और डिप्टी अटॉर्नी जनरल द्वारा दिए कारणों के आधार पर इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं कि एफबीआई के नेतृत्व को लेकर ताजा शुरूआत की आवश्यकता है। उन्होंने कहा, ‘‘यह आवश्यक है कि यह न्याय विभाग उन पुराने सिद्धांतों को लेकर अपनी प्रतिबद्धता को स्पष्ट रूप से फिर से पुष्ट करे जो संघीय जांच एवं अभियोगों की ईमानदारी एवं निष्पक्षता को सुनिश्चित करते हैं।’’ कोमी की एक टीम ने जब उन्हें यह नोट सौंपा कि उन्हें हाल में बर्खास्त कर दिया गया है, उस समय वह लॉस एंजिलिस में एफबीआई एजेंटों को संबोधित कर रहे थे। उनके 10 साल के कार्यकाल का यह चौथा साल था। यह अभी स्पष्ट नहीं है कि कोमी को बर्खास्त किए जाने से रूस संबंधी जांच किस प्रकार प्रभावित होगी लेकिन डेमोक्रेटिक पार्टी के सदस्यों ने आशंका जताई है कि उन्हें बर्खास्त किए जाने से जांच पटरी से उतर सकती है। सीनेट में शीर्ष डेमोक्रेट चक शूमर ने कहा, ‘‘मैंने राष्ट्रपति से कहा, ‘राष्ट्रपति जी, मैं पूरे सम्मान के साथ आपसे यह कहना चाहता हूं कि आप एक बड़ी गलती कर रहे हैं।’’ सीनेट में अल्पमत के नेता ने मांग की कि न्याय विभग 2016 के चुनाव में रूस के कथित प्रभाव की जांच के लिए एक विशेष अभियोजन नियुक्त करे। शूमर ने कहा, ‘‘सैली येट्स और प्रीत भरारा तथा अब कोमी जैसे शीर्ष अधिकारियों की बर्खास्तगी संयोग प्रतीत नहीं होती।’’
यह निर्णय जिस समय पर लिया गया है, शूमर ने उस पर भी सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा, ‘‘निदेशक कोमी द्वारा हिलेरी के मामले की जांच के तरीके को लेकर यदि प्रशासन को कोई आपत्ति थी तो उन्हें ये आपत्तियां राष्ट्रपति के कार्यालय संभालने के बाद ही उठानी चाहिए थी लेकिन उन्होंने कोमी को उस समय बर्खास्त नहीं किया। ऐसा आज क्यों किया गया?’’ हाउस डेमोक्रेटिक कॉकस के अध्यक्ष जो क्राउले ने कहा कि कोमी की बर्खास्तगी काफी परेशान करने वाली है। उन्होंने कहा, ‘‘राष्ट्रपति ट्रंप ने उनकी और उनके साथियों की जांच कर रहे व्यक्ति को बर्खास्त किया। मैं विशेष अभियोजक की नियुक्ति की मांग का मजबूती से समर्थन करता हूं।’’ इस कदम को ‘‘अभूतपूर्व’’ बताते हुए भारतीय मूल के अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने कहा कि यह बहुत परेशान करने वाला है कि मुख्य कार्यकारी उनके प्रशासन के खिलाफ जांच कर रहे व्यक्ति को बर्खास्त करके जांच में हस्तक्षेप कर रहे हैं। सशस्त्र सेवा समिति के रिपब्लिकन सीनेटर जॉन मैक्कैन ने कहा कि वह कोमी को बर्खास्त करने के ट्रंप के फैसले से निराश हैं।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>