Home राजधानी एमपी में खाद्य प्र-संस्करण उद्योगों को बढ़ावा, तीन जिलों में फूड पार्क

एमपी में खाद्य प्र-संस्करण उद्योगों को बढ़ावा, तीन जिलों में फूड पार्क

17
0

भोपाल। मध्यप्रदेश में खाद्य प्र-संस्करण उद्योगों को बढ़ावा लगातार बढ़ावा दिया जा रहा है। इसके लिए राज्य सराकर द्वारा प्रदेश के तीन जिलों मण्डला, छिन्दवाड़ा और मंदसौर में चरणबद्ध रूप से उद्योग एवं वाणिज्य विभाग द्वारा फूड पार्क विकसित किये जा रहे हैं। पार्क में स्थापित औद्योगिक इकाइयों के माध्यम से रोजगार भी उपलब्ध करवाया गया है।

मण्डला जिले के औद्योगिक क्षेत्र मनेरी में कृषि एवं खाद्य प्र-संस्करण उद्योगों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से फूड पार्क की स्थापना की गयी है। इस औद्योगिक क्षेत्र में अधोसंरचना के रूप में वेयर-हाउस, कोल्ड-स्टोर और मिल्क चिलिंग प्लांट का निर्माण किया गया है। फूड पार्क के विकास के लिये 30.354 हेक्टेयर भूमि आरक्षित है। अब तक 10 इकाई को करीब 4 हेक्टेयर से ज्यादा भूमि आवंटित की जा चुकी है। इसमें 7 फूड प्रोसेसिंग यूनिट में उत्पादन हो रहा है।

छिन्दवाड़ा जिले के बोरगाँव में भी फूड पार्क विकसित किया जा रहा है। यह पार्क औद्योगिक क्षेत्र छिन्दवाड़ा से 72 किलोमीटर दूर नागपुर के पास सौंसर तहसील में है। फूड पार्क में 15 औद्योगिक इकाई को 13.148 हेक्टेयर भूमि आवंटित की जा चुकी है। फूड पार्क के लिये करीब 22 हेक्टेयर भूमि का विकास किया गया है। पार्क में 12 इकाई में उत्पादन किया जा रहा है। फूड पार्क में 34 करोड़ रुपये का निवेश हुआ है और करीब 900 व्यक्ति को रोजगार मिल रहा है।

मंदसौर जिले का जग्गाखेड़ी फूड प्रोसेसिंग पार्क 50 एकड़ भूमि पर विकसित किया गया है। पार्क में कोल्ड-स्टोरेज, आइस प्लांट, वेयर-हाउस और टेस्टिंग लेबोरेटरी भवन का निर्माण कार्य पूरा किया जा चुका है। पार्क में बुनियादी अधोसंरचना जल-प्रदाय, सडक़, बिजली आदि के कार्य भी प्राथमिकता के साथ करवाये गये हैं। पार्क के 94 भू-खण्ड 63 इकाई को आवंटित किये गये हैं। औद्योगिक क्षेत्र में 29 उद्योग की स्थापना हो चुकी है। फूड पार्क में बुनियादी सुविधाओं के विकास पर अब तक 10 करोड़ से अधिक की राशि खर्च की जा चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here