Home भारत पुनर्मतदान के दौरान जम्मू के सोईबुग में पथराव

पुनर्मतदान के दौरान जम्मू के सोईबुग में पथराव

55
0

जम्मू,। मध्य कश्मीर के बड़गाम जिले में गुरुवार को पुनर्मतदान के दौरान सोईबुग चौक पर युवकों ने हल्का पथराव किया। गांव में एक मतदान केन्द्र पर फिर से मतदान हो रहा है। अलबत्ता, सुरक्षाबलों ने पथराव कर रहे युवकों का पीछा किया। रविवार को भी मतदान के दौरान गांव में भारी पैमाने पर पत्थरबाजी की घटनाएं घटीं थीं। इसके बाद ही पुनर्मतदान का आदेश जारी किया गया।

कश्मीर में ब्रॉडबैंड इटरनेट सेवाएं फिर बंद

कश्मीर में गुरुवार को एक बार फिर से ब्रॉडबैंड सेवाएं बंद कर दी गई हैं। हाल ही की हिंसा को देखते हुए प्रशासन ने यह फैसला लिया है।

ब्रॉडबैंड इटरनेट सेवाओं को अस्थाई तौर पर बंद कर दिया गया है। बड़गाम में कड़ी सुरक्षा के बीच सुबह सात बजे से 38 मतदान केंद्रों पर दोबारा मतदान हो रहा है जिसके चलते ब्रॉडबैंड सेवाएं एक बार फिर बंद कर दी गई है। इससे पहले इंटरनेट नौ अप्रैल को वोटिंग के दौरान दो दिनों के लिए बंद किया गया था। इसे मंगलवार को दोबारा शाम चार बजकर 30 मिनट पर चालू कर दिया गया जिससे घाटी के ग्राहकों को काफी राहत मिली थी।

 श्रीनगर लोकसभा सीट के 38 मतदान केन्द्रों पर चल हे पुनर्मतदान के चलते दोपहर 12 बजे तक सिर्फ 1.4 प्रतिशत मतदान हुआ है। पहले एक घंटे के दौरान जहां एक भी मतदाता 38 मतदान केंद्रों पर नहीं पहुंचा था। वहीं सुबह तीन घंटे में पूरे क्षेत्र में 337 लोग अपने मताधिकार का प्रयोग कर चुके थे। मतदान शाम चार बजे तक चलेगा।

अधिकारिक सूचनाओं में कहा गया कि चाडूरा विधानसभा क्षेत्र में 199 और बीरवाह विधानसभा में 166 लोगों ने वोट डाले थे जबकि चरार ए शरीफ इलाके में दो वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। अलगाववादी नेताओं सैयद अली शाह गिलानी, मीरवाइज उमर फारुख और यासीन मलिक ने आज भी घाटी में हड़ताल का आहवान किया है।

रविवार को इस सीट पर उपचुनाव के दौरान भारी पैमान पर हिंसा हुई थी। ये 38 मतदान केन्द्र संसदीय क्षेत्र की पांच विधानसभा सीटों में फैले हैं। इनमें से 16 मतदान केन्द्र चादूरा, आठ बड़गाम, पांच बीरवाह, एक खान साहिब और आठ चरारे शरीफ में हैं। मतदान केन्द्र श्रीनगर में 30 स्थानों या इमारतों में स्थित हैं।

श्रीनगर चुनाव क्षेत्र में कुल नौ उम्मीदवार मैदान में है जिन में नेशनल कांफ्रेंस के फ़ारूख अब्दुल्ला और पीडीपी के नज़ीर खान प्रमुख उम्मीदवार हैं। नौ अप्रैल को हुई हिंसा में सिर्फ बड़गाम में ही सात लोग मारे गए थे जबकि 150 से ज्यादा जख्मी हुए थे।
वहीं, अधिकारियों ने बड़गाम जिले में नशलानपोरा बी और सी मतदान केन्द्र को टानकीपोरा में स्थगित कर दिया है। बीते रविवार को हुई हिंसक झड़पों को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here