Home भारत जाट आंदोलन : कई जगहों पर अब भी सांकेतिक धरना जारी

जाट आंदोलन : कई जगहों पर अब भी सांकेतिक धरना जारी

53
0

चंडीगढ़। हरियाणा में जाट आरक्षण सहित छह मांगों को लेकर चल रहा अनिश्चितकालीन धरना 56वें दिन भी जारी है। हालांकि आंदोलन अब धीरे-धीरे समाप्ति की ओर बढ़ रहा है। पानीपत, सिरसा व कैथल तथा हिसार में कुछ धरनों को समाप्त कर दिया गया है। लेकिन कई जगहों पर अब भी सांकेतिक धरना दिया जा रहा है। जहां पर आम जनता की जगह केवल कमेटी के पदाधिकारी ही धरना दे रहे हैं। ऐसे धरनों की संख्या एक दर्जन है।

अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक पिछले चार दिनों से प्रदेश में दौरा कर चरणबद्ध तरीके से धरनों को सम्बोधित कर धरनों के समाप्ति की घोषणा कर रहे हैं। जाट नेताओं द्वारा धरनों को समाप्त तो किया जा रहा है। लेकिन धरने में शामिल रहे लोगों से लगातार अपील भी कर रहे हैं कि वह आंदोलन कमेटी के लोगों से सम्पर्क में रहें। ऐसा इसलिए कि अगर सरकार द्वारा तय समझौते की शर्तों का उल्लघंन किया जाता है तो दोबारा एक निश्चित सीमा के अंदर धरना प्रारम्भ किया जा सके। शुक्रवार को चंडीगढ़ में गठित निगरानी कमेटी की बैठक स्वतंत्र प्रभार राज्यमंत्री कृष्ण बेदी के नेतृत्व में हुई, जिसमें कुछ मुद्दों पर दोनों की पक्षों में सहमति बनी है।

दूसरी तरफ प्रशासन भी लगातार धरनों पर निगाह लगाए हुए है। गौरतलब है कि हरियाणा में 29 जनवरी से ही जाट समुदाय के लोग अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हुए हैं। इस समस्या के समाधान के लिए 19 मार्च को नई दिल्ली में जाट नेताओं व सरकार के बीच समझौता हुआ था। जिसकी निगरानी के लिए सरकार ने स्वतंत्र प्रभार राज्यमंत्री कृष्णबेदी के नेतृत्व में एक कमेटी भी गठित की है। इस समझौते के अनुसार जाट समुदाय द्वारा चरणबद्ध तरीके से धरने समाप्त किए जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here