Home मध्यप्रदेश नर्मदा ने हमें सब कुछ दिया, हम भी नर्मदा को प्रदूषण मुक्त...

नर्मदा ने हमें सब कुछ दिया, हम भी नर्मदा को प्रदूषण मुक्त बनाए: शिवराज

42
0

सीहोर। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गुरुवार शाम को सीहोर के बुधनी विकासखण्ड के ग्राम जहाजपुरा पहुँचकर नर्मदा सेवा यात्रा में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि मॉ नर्मदा की कृपा से मध्यप्रदेश के खेतों में हरियाली छा रही है तथा प्रदेश का कृषि उत्पादन तेजी से बढ़ा है। प्रदेश के आधे से अधिक क्षेत्र में नर्मदा नदी का जल पेयजल के लिए उपलब्ध हो रहा है। मॉ नर्मदा के जल से प्रदेश मे विद्युत उत्पादन भी हो रहा है। इस तरह मॉ नर्मदा ने हमे सब कुछ दिया है अत: हम भी नर्मदा को प्रदूषण मुक्त बनाने तथा नर्मदा की जल धारा को अविरल बनाये रखने के लिए नर्मदा तट पर वृक्ष लगाने का संकल्प लें। कार्यक्रम का शुभारंभ मॉ नर्मदा के चित्र पर माल्यार्पण कर किया गया।

मुख्यमंत्री ने अपनी पत्नी साधना सिंह के साथ उपस्थित कन्याओं के पॉव पखारे। कार्यक्रम में ग्राम वॉया के विध्यवसिनी कान्वेंट स्कूल की छात्राओं ने नर्मदाष्टक पर आकर्षक नृत्य प्रस्तुत किया जिस पर मुख्यमंत्री ने इन बालिकाओं को 25 हजार का पुरस्कार देने की घोषणा की। यह पुरस्कार बलिकाओं को शुक्रवार शाम को बुधनी घाट पर आयोजित नर्मदा सेवा यात्रा के कार्यक्रम में दिया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा का उद्देश्य प्रदेश की इस सबसे बड़ी नदी के संरक्षण के प्रति जागरूकता उत्पन्न करना है। यह यात्रा एक बड़ा जन-आन्दोलन बन गई है। माँ नर्मदा और उसके परिस्थितिकीय तंत्र को संरक्षित और संवर्धित करने का संकल्प लेने के लिये लोग आगे आ रहे हैं। यात्रा ने पूरे विश्व में करोड़ों लोगों के दिल में जगह बनाई है। उन्होनें कहा कि नर्मदा किनारे के शहरों और गाँवों का सीवेज का गंदा पानी नदी में नहीं मिलने देंगे। इसके लिये ट्रीटमेंट प्लांट स्थापित किये जायेंगे, जो नर्मदा किनारे के गाँवों और शहरों से नर्मदा में मिलने वाले पानी को साफ करेंगे। सीवेज के पानी का उपचार कर साफ पानी किसानों को सिंचाई के लिये दिया जायेगा। अभी तक सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट की तेजी से स्थापना के लिये 18 नगर का चयन कर लिया गया है। इसके लिये 1500 करोड़ की राशि का प्रावधान किया गया है।

हरिद्वार से आये संत शिवानंद महाराज ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने नर्मदा को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए जो यह अभियान प्रारंभ किया है वह अत्यन्त सराहनीय है। उन्होंने उपस्थित ग्रामीणों से इस अभियान को सफल बनाने का आव्हान किया। साध्वी प्रज्ञा भारती ने कहा कि हम मॉं नर्मदा की पूजा करते है तथा नर्मदाष्टक गाते हैं, लेकिन हम लोग ही नर्मदा को प्रदूषित भी कर रहे है अत: आवश्यकता इस बात की है कि सभी मिलकर नर्मदा को प्रदूषण मुक्त बनाये और नर्मदा तटों के आसपास अधिक से अधिक संख्या में वृक्ष लगाये। स्वामी विश्वेवरानंद महाराज ने भी उपस्थित ग्रामीणों से नर्मदा को प्रदूषित ना करने की अपील की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here