Home मध्यप्रदेश आधे घंटे में होने वाली ई-रजिस्ट्री अब पांच मिनट में

आधे घंटे में होने वाली ई-रजिस्ट्री अब पांच मिनट में

32
0

इंदौर। अभी तक आधे से एक घंटे में होने वाली ई-रजिस्ट्री अब महज 5 मिनट में हो सकेगी। मार्च जैसे वित्तीय वर्ष के मौके पर पंजीयन विभाग में रजिस्ट्री कराने वाले आवेदकों की संख्या बढ़ने पर यह निर्णय लिया गया है। जिसके चलते पंजीयन कार्यालय में तैनात सब रजिस्ट्रार एक दिन में 400 के करीब रजिस्ट्री कर सकते है। पंजीयन मुख्यालय ने एक दिन में स्लाट की संख्या 336 की जगह अब 384 कर दी है। यह व्यवस्था तत्काल प्रभाव से लागू भी कर दी है।

ई-रजिस्ट्री शुरू होने के बाद रजिस्ट्री कराने आ रहे आवेदकों को पहले ही कई प्रक्रियाओं से गुजरना पड़ रहा है। उसके बाद स्लाट बुक होने पर उनके दस्तावेजों की रजिस्ट्री में 30 मिनट से एक घंटा तक लग रहा है। कई बार सर्वर डाउन होने की वजह से भी आवेदकों को परेशान होकर वापस लौटना पड़ रहा है जिसके चलते ढाई महीने मे ई-रजिस्ट्री से पंजीयन विभाग को काफी नुकसान हो रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए पंजीयन मुख्यालय ने स्लाट बढ़ाने का फैसला लिया है। चूंकि वित्तीय वर्ष मार्च में रजिस्ट्री कराने वाले आवेदकों की संख्या बढऩा है इसलिए मुख्यालय द्वारा एक दिन में स्लाट की संख्या 336 की जगह अब 384 कर दी है। पंजीयन दफ्तरों में तैनात सब रजिस्ट्रार एक दिन में अब 384 रजिस्ट्री कर सकेंगे। यह व्यवस्था तत्काल प्रभाव से लागू कर दी गई है।

स्लाट के अंतर को 5 मिनट कम किया पंजीयन विभाग द्वारा ज्यादा रजिस्ट्री कराने पर अलग से स्लाट बढ़ाना पड़ते है। इन रजिस्ट्रियों का स्लाट 10 मिनट के अंतर से अलाट किया जाता है, परंतु विभाग ने अब 10 मिनट के अंतर से मिलने वाले स्लाट को 5 मिनट कर दिया है जिसके चलते आम लोगों को 5 मिनट में रजिस्ट्री मिल जाएगी और एक दिन के अंदर 350 से ज्यादा रजिस्ट्रियां हो सकेंगी। दिक्कत हो तो हेल्पलाइन पर करे शिकायत ई रजिस्ट्री की दिक्कतों के संबंध में टोल फ्री नंबर पर काल किया जा सकता है जिसके लिए 1800233842 हेल्पलाइन योजना शुरू की गई है। यह नंबर सुबह 10.30 बजे से शाम 5 बजे तक काम करेगा। इसके अलावा ई-मेला आईडी पर भी शिकायत की जा सकती है। हर शिकायत का टिकट नंबर जनरेट होता है उस नंबर के आधार पर शिकायत पर कार्रवाई को ट्रेस किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here