अब गठबंधन की सरकार बनाने लगे पीएम : अखिलेश
By dsp bpl On 28 Feb, 2017 At 01:45 PM | Categorized As भारत | With 0 Comments

आजमगढ़। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि जो हवा उत्तर प्रदेश में चल रही है, उसके बारे में आजमगढ़ के लोगों को पता चल गया होगा। जो बात मुम्बई और दुबई वाले जान जाते हैं, उसके बारे में आजमगढ़ वाले जरूर जानते होंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री बगल में बोलकर गए, पहले 300 सीटों की बात करते थे, अब मऊ आते-आते गठबन्धन की सरकार बनने की बात करने लगे। आजमगढ़ इसीलिए नहीं आये क्योंकि वह जानते हैं कि सभी दस सीटें सपा को मिलने वाली है। इसलिए किनारा कर लिया।

सीएम अखिलेश ने कहा कि यह चुनाव यूपी का भविष्य है। इसलिए जनता का भविष्य भी इससे जुड़ा है। इसलिए हमने पीएम और भाजपा से कहा कि जिस जिले में कार्यक्रम हो, वहां बताकर जाएं कि उनकी सरकार ने क्या किया? तीन साल हो गए, कोई फैसला नहीं बता पा रहे हैं। आजमगढ़ में ही कोई एक काम बता दें। मऊ, गोखरपुर में भी मेरा यही सवाल था। अखिलेश ने कहा कि गोरखपुर के बाबा वहां बिजली नहीं आने की बात कहते हैं, अगर उनको अगर बिजली देखनी है तो किसी तार को छूकर देख लें। सपा अध्यक्ष ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री जी के लिए कुछ नहीं कहूंगा। वह कह रहे हैं कि जहां चुनाव हो गया, वहां बिजली नहीं दी जा रही है। वह आजमगढ़ के लोगों से पूछ लें, हमेशा सभी को बिजली दी गई।

उन्होंने कहा कि हमने रमजान पर बिजली दी तो होली और क्रिसमस पर भी दी। हम लोग सच बुलवाने के लिए गंगा की कसम खाते हैं। इसलिए प्रधानमंत्री जी काशी में समाजवादी सरकार द्वारा चौबीस घण्टे बिजली दिए जाने के मामले में कसम खाएं। अखिलेश ने नोटबन्दी पर सवाल उठाते हुए कहा कि सभी को लाइन में खड़ा कर दिया गया। गरीबों की मौत हुई, भाजपा वालों ने कोई मदद नहीं की। केवल समाजवादी सरकार ने आर्थिक मदद की। अखिलेश ने कहा आप देश को नोटबन्दी पर गुमराह कर रहे हो। आप इसके फायदे के बारे में कोई जगह तय कर लो, बहस के लिए। नहीं तो खंजाची के गांव में ही हम बहस को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि अगर हिसाब किताब नहीं दे रहे हैं, तो कुछ छिपा रहे हैं और बड़े लोगों को लाभ मिल रहा है। अखिलेश ने इन दिनों गधे को लेकर हो रहे सियासी हमलों पर कहा कि हमने तो विज्ञापन के बारे में केवल जानकारी दे दी और पीएम उस जानवर की विशेषता बताने लगे। प्रधानमंत्री इमोशनल हो गए। उनके एक नेता तो कहने लगे कि इस जानवर की विशेषता ही मुख्यमंत्री को नहीं पता। हमने कहा कि हम गधे की विशेषता क्यों जानना चाहेंगे, कोई नहीं जानना चाहता है।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>