अखिलेश सरकार ने यूपी में उजाला बांटने में भी किया भेदभाव : गोयल
By dsp bpl On 28 Feb, 2017 At 04:39 PM | Categorized As भारत | With 0 Comments

वाराणसी। केन्द्रीय उर्जा मंत्री स्वतंत्र प्रभार पीयूष गोयल ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर बिजली को लेकर पलटवार किया है। आंकड़ों और तथ्यों के साथ कहा है कि सपा सरकार ने सुबे में उजाला देने में भी भेदभाव किया है। अपने पूरे पांच वर्ष के कार्यकाल में चार लाख 81 हजार बीपीएल कार्ड धारको के घर में बिजली दे पाई है। दावा किया है कि विधानसभा चुनाव में पांच चरणों के मतदान के बाद सुबे में दो तिहाई बहुमत से भाजपा की सरकार बनने जा रही है।

मंगलवार को घौसाबाद स्थित भाजपा के क्षेत्रीय मीडिया सेन्टर में पत्र-प्रतिनिधियों से बातचीत के दौरान केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि 12वीं पंचवर्षीय योजना में केन्द्र सरकार ने 3233913 घरों तक बिजली पहुंचाने के धन आवंटित कर दिया था। लेकिन सरकार सिर्फ पांच लाख 26 हजार दो घरों में ही बिजली दे पायी है। सरकार लक्ष्य के मुकाबले 16 फीसदी ही कार्य कर पायी है। तंज कसते हुए कहा कि वर्ष 2014-15 तक सपा सरकार सिर्फ 59 गांवों का ही विद्वुतिकरण कर पाई है। उन्होंने कहा कि केन्द्र में भाजपा की सरकार बनने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के निर्देश पर एक हजार दिन के अंदर साढ़े अठ्ठारह हजार गांवो को बिजली दी गयी है।

उन्होंने कहा कि इस कार्य में और तेजी लाने के लिए केन्द्र सरकार ने चल रहे कार्यो पर निगरानी के लिए ग्रामीण क्षेत्र में अभियंताओं को भी लगा दिया है। बताया कि राज्य सरकार ने अगस्त 2016 के बाद से ही ग्रामीण विद्वुतिकरण एप, ऊर्जा एप में डाटा (जानकारी) देना बंद कर दिया है। इस ऐप से उर्जा की उपलब्धता और खपत की जानकारी मिली है। पीयूष गोयल ने कहा कि प्रदेश सरकार ने यह भी लिखकर दिया है कि यहां पर्याप्त मात्रा में बिजली है। तो फिर बिजली संकट और पिछले वर्षो से एक करोड़ अस्सी लाख घर क्यों बिजली से वंचित है। चुटकी लेते हुए कहा कि खाओ गंगा मइया की कसम सारा बिजली सैफई दे दिया कि नहीं। साम्प्रदायिक आधार पर बिजली देने भेदभाव के सवाल पर कहा कि सही बात है मुरादाबाद के लोकसभा सदस्य कुंवर सर्वेश कुमार ने पीएम नरेंद्र मोदी के साथ एक मीटिंग में यह मुद्दा उठाया था।

बताया कि यह शिकायत ऊर्जा मंत्रालय को दर्ज कराई है। केंद्र ने इस तरह का भेदभाव बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए एफआईआर दर्ज करने की बात कही लेकिन राज्य सरकार ने अभी तक उसका कोई जवाब नहीं दिया है। उन्होंने बताया कि देश और उत्तर प्रदेश में सातो दिन 24 घंटे बिजली देने के लिए 24/7 शुरू किया गया है। जिसमें देश के सभी राज्यों और केन्द्र शासित राज्यों ने अपनी मंजूरी दे दी है लेकिन उत्तर प्रदेश ने आज तक अपनी मंजूरी नहीं दी है। एक सवाल के जबाब में कहा कि वाराणसी में इंटिग्रेटेडपावर डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम (आईडीपीएस) योजना के तहत कबीर नगर सहित सात हजार घरों में बिजली दी जा रही है। आने वाले समय में शहर के सभी जगहो पर यह सुविधा नागरिकों को मिलेगी। ऊर्जा मंत्री ने बताया कि यूपी में भाजपा की सरकार बनते ही केन्द्र सरकार किसानों को ऊर्जा दक्षता युक्त पम्प देगी और बदले में उनसे उनका पुराना पम्प ले लेगी। इस पम्प की खासियत है कि पानी भरने के बाद किसान को एसएमएस आ जायेगा कि खेत में पानी भर गया। इससे अनावश्यक उर्जा और पानी की भी बचत होगी।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>