Home भारत गुजरात में जन्मा, यूपी ने गोद लिया, ये ही मेरे मां-बापः मोदी

गुजरात में जन्मा, यूपी ने गोद लिया, ये ही मेरे मां-बापः मोदी

27
0

हरदोई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यहां कहा कि भगवान कृष्ण यूपी में जन्मे और गुजरात को कर्मभूमि बनाया, लेकिन मैं गुजरात में जन्मा और यूपी ने मुझे गोद लिया, ये ही मेरे मां-बाप हैं। उन्होंने कहा कि मैं आप से वादा करता हूं, आपकी सारी समस्या दूर कर दूंगा, बस आप भारी बहुमत से विजयी बनाइये। प्रधानमंत्री यहां सी.एस.एन पीजी कॉलेज में परिवर्तन संकल्प रैली को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होंने पहले दो चरणों के मतदान में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पक्ष में जमकर वोटिंग का दावा किया। आठ नवम्बर की रात अच्छे-अच्छे का हो गया पत्ता साफ प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले दो चरण में भाजपा का घोड़ा बहुत तेज दौड़ रहा है, ये सबने मान लिया है। उन्होंने विरोधी दल पर हमलावर होते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश का विकास कैसे हो, इस पर न तो समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और न ही कांग्रेस ने ध्यान दिया। सबने यहां के लोगों को वोटबैंक माना। यहां के लोग मेहनतकश है, समर्थ भी हैं, फिर भी यहां के लोग बेरोजगार हैं, इसके लिए यहां की सरकार जिम्मेदार है। उन्होंने कहा नोटबन्दी से अच्छे-अच्छों का पत्ता साफ हो गया। जिन्होंने 70 सालों तक गरीबों को लूटा है, उन्हें गरीबों का पैसा लौटाना ही पड़ेगा। आठ नवम्बर की रात अच्छे-अच्छे का पत्ता साफ हो गया। थानेदार बिना सपा नेता से पूछे लोगों की शिकायत दर्ज नहीं करते पीएम मोदी ने कहा कि देश को नई ऊंचाई पर ले जाने के लिए हर कोई प्रयास कर रहा है, लेकिन अगर यूपी नहीं विकास करेगा, तो देश सही से विकास नहीं कर पाएग। उन्होंने कहा कि यहां के युवाओं को जिस दिन रोजगार मिल जाएगा, उस दिन बेरोजगारी खत्म हो जाएगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भयंकर बीमारी हो गई है, थानेदार बिना सपा नेता से पूछे लोगों की शिकायत दर्ज नहीं करते हैं।

उन्होंने कहा कि यूपी में शांति व्यवस्था बनाने के लिए भेदभाव नहीं होनी चाहिए, जब तक ऐसा नहीं होगा तब तक यूपी से गुंडागर्दी नहीं खत्म होगी। यूपी में हेती हैं सबसे ज्यादा राजनीतिक हत्याएं प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा राजनीतिक हत्याएं होने का आरोप लगाया और प्रदेश सरकार पर तंज कसा कि ये काम नहीं कारनामा बोलता है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में अगर उनको लगता है कि कोई उभर रहा है, तो ये लोग उनका पत्ता साफ कर देते हैं। यहां गैगरेप की घटना पर ये लेग बयानबाजी करते हैं, क्या आप यूपी को अपना परिवार नहीं मानते हो क्या? प्रधानमंत्री ने कहा कि अर्म्स एक्ट के अन्दर आने वाले आंकड़ों में 50 फीसदी उत्तर प्रदेश के नाम होता है। पत्रकार की कर दी जाती है हत्या पीएम मोदी ने कहा कि इसी तरह दलित, शोषित, वंचितों की सुरक्षा, सरकार की जिम्मेदारी होती है। देश में दलितों के प्रति उत्पीड़न की घटना का 20 फीसदी अकेले यूपी में होता है। उन्होंने कहा कि प्राकृतिक सम्पत्ति राज्य और देश की सम्पत्ति होती है, लेकिन यहां अवैध खनन मुख्य कारोबार हो गया है, ये सरकार के इशारे पर होता है। अगर जनता या पत्रकार इनके खिलाफ कोई भी खबर छाप दे तो उसकी हत्या कर दी जाती है, पुलिस उसे फोन करके धमकाती है। ‘संकल्प पत्र’ के बिन्दुओं को जनता के सामने रखा प्रधानमंत्री ने विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा के ‘संकल्प पत्र’ का जिक्र करते हुए कहा कि इसमें युवाओं को रोजगार देने और उनके भविष्य को बनाने के लिए हर संभव कोशिश का प्रस्ताव रखा है। उन्होंने कहा कि विश्वकर्मा बोर्ड छोटे और वंचितों के लिए बनाया गया है, जिसके अंतर्गत यहां के पिछड़े वर्गों को संबल बनाया जाएगा।

इसी तरह सपा-बसपा ने अपने शासनकाल में बुनकरों के लिए कभी कुछ भी नहीं सोचा, लेकिन भाजपा के संकल्प पत्र में इसका प्रावधान किया गया है। पीएम मोदी ने एक बार फिर भाजपा की सरकार बनने पर किसानों के कर्जमाफी की खुद जिम्मेदारी लेने की बात कही। उन्होंने कहा कि यूपी का गोद लिया हुआ बेटा आपसे वादा करता है, जैसे ही भाजपा की सरकार बनती है, मैं किसानों का कर्ज माफी कराने की जिम्मेदारी लेता हूं। उन्होंने कहा कि इसी तरह 70 साल के दौरान एक बार भी फर्टिलाइजर का दाम कम नहीं हुआ लेकिन यूपी का गोद लिया बेटा ने इसका दाम कर करा दिया। उन्होंने कहा कि इस कदम से 5000 करोड़ रुपया किसानों का बचा, और ये चौधरी चरण सिंह के बाद दूसरी बार हुआ। उन्होंने कहा कि इसी तरह मैंने यहां के घरों तक बिजली पहुंचाने के लिए पैसा दिया, लेकिन अखिलेश जी ने यहां के घरों तक बिजली नहीं पहुंचाई। सीएम अखिलेष ने रोका किसानों का हक प्रधानमंत्री ने यूरिया का नीम कोटिंग कराने का भी जिक्र किया और कहा कि इससे किसानों की समस्याओं का अन्त हुआ है। अब यूरिया सिर्फ किसानों के लिए उपयोग किया जा रहा है, इसकी कालाबाजारी नहीं हो रही और यह फैक्ट्रियों में इस्तेमाल नहीं हो पाता है। उन्होंने किसानों के लिए केन्द्र की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का भी जिक्र किया और कहा कि भाजपा की प्रदेश सरकार में 60 फीसदी किसानों को इसका लाभ मिला, लेकिन उत्तर प्रदेश की अखिलेश यादव सरकार में महज 14 फीसदी किसान इसका लाभ ले पाये। उन्होंने कहा कि तहत किसानों को फसल कटाई के 15 दिनों के बाद भी होने वाली क्षतिपूर्ति करने का प्रावधान है। अखिलेश जी ने किसानों का हक रोका और उन तक केंद्र सरकार की ये योजना नहीं पहुंचने दिया। 07 हजार में मिलेगा 45 हजार का छल्ला प्रधानमंत्री ने एक बार फिर केन्द्र सरकार द्वारा स्टेन्ट का दाम 85 फीसदी कम करने की बात कही।

उन्होंने कहा कि हृदय रोगी महंगे खर्च के चलते इलाज नहीं करा पाते थे। मैने फैसला किया 45 हजार का छल्ला 07 हजार में मिलेगा। स्टेन्ट बनाने वाले लोग हमारे विरोध में हो जाएंगे। मैं ऐसा इसलिए कर रहा हूं क्योंकि मैं गरीबी में जिया हूं, गरीब की जिदंगी कैसी होती है, वह मैं जानता हूं। उन्होंने कहा कि 670 के करीब महंगई दवाईयों की सूची भी हमने बनवाई। सभी दवाईयों का दाम सस्त किया और लूट बन्द की। गरीबों का भला करने के लिए नेक इरादे चाहिए। जिसको जो बनाना है, बनाए, मैं गरीबों के लिए षौचालय बनवाउंगा उन्होंने स्वच्छता अभियान का मुद्दा उठाते हुहए कहा कि आज भी करोड़ों महिलाओं को खुले में शौंच जाना पड़ता है, जिसको जो बनाना है, बनाए, मैं गरीबों के लिए शौचालय बनवाउंगा। पीएम मोदी ने कहा कि एलईडी बल्ब का दाम कम कर मैंने मध्यम और गरीब वर्गों के घर का बिजली बिल बचाया। उन्होंने कहा कि हमने 20 करोड़ से ज्यादा एलईडी बल्ब घरों तक पहुंचायी। हमने हरदोई जिले में सवा लाख एलईडी बल्ब पहुंचाया है। वैज्ञानिकों की उपलिब्ध पर किसी ने नहीं मांगा सबूत प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार आते ही भाई-भतीजावाद खत्म होगा।

उन्होंने कहा कि कल वैज्ञानिकों की उपलिब्ध पर किसी ने सबूत नहीं मांगा, जबकि सर्जिकल स्ट्राइक पर लोगों ने सबूत मांगे थे, जो बेहद शर्मनाक था। उन्होंने फौज के जवानों को वन रैंक पेन्शन का तोहफा देने का भी जिक्र किया। प्रधानमंत्री ने सरकारी नौकरियों के इन्टरव्यू में बिचौलियों के सक्रिय होने की बात की और कहा कि दो से पांच लाख रूपए इन्टरव्यू के लिए वूसले जाते थे। क्या 30 सेकेण्ड के इन्टरव्यू में प्रतिभा पता लगती है? मलाई खाने के लिए अधिकारी इन्टरव्यू खत्म करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here