अरुणाचल: सीएम खांडू समेत 33 एमएलए भाजपा में शामिल
By dsp bpl On 31 Dec, 2016 At 04:57 PM | Categorized As भारत | With 0 Comments

इटानगर। अरुणाचल प्रदेश में फिर एक बार राजनीतिक उठा पटक के चलते एक बार फिर से कमल खिल गया। छह माह पुराने रानजीतिक घटनाक्रम ने अपने को फिर से दोहराया। शनिवार को लगभग 1.30 बजे राज्य के मुख्यमंत्री पेमा खांडू समेत पीपुल्स पार्टी ऑफ अरुणाचल (पीपीए) के 33 विधायक भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए। जिसके चलते राज्य में भाजपा की सरकार बन गई।

उल्लेखनीय है कि छह माह पूर्व कांग्रेस से पेमा खांडू के नेतृत्व में निकले विधायकों का दल पीपीए में शामिल हुए थे। जिसके चलते एक भी विधायक वाली पार्टी पीपीए सत्ता में आ गई। लेकिन यह पीपीए की सरकार अधिक दिनों तक नहीं चली। पीपीए अध्यक्ष काफा बेंगिया द्वारा गुरुवार की देर रात 10.30 बजे मुख्यमंत्री खांडू समेत कुल सात विधायकों को पार्टी से निलंबित किए जाने के बाद फिर से राज्य में राजनीतिक संकट उत्पन्न हो गया। शनिवार को फिर से बेंगिया ने पार्टी से चार विधायकों को निलंबित करते हुए राज्य में पीपीए की सरकार होने का दावा किया। लेकिन यह दावा कुछ घंटों के अंदर हवा हो गया। मुख्यमंत्री खांडू समेत 33 विधायकों ने राज्य विधानसभा के नोकमे निमाती सभागार में अरुणाचल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष तापीर गाव की मौजूदगी में भाजपा का दामन थाम लिया।

भाजपा में शामिल होने के मौके पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य मंत्री पेमा खांडू ने कहा कि कांग्रेस सरकार के दौरान पिछले दो वर्षों से राज्य में विकास कार्य पूरी तरह से ठप हो गया था, बावजूद सभी विधायकों ने पीपीए में शामिल होकर राज्य के विकास कार्य को तेज करने करने प्रयास किया था। लेकिन पीपीए ने भी अपने सरकार को सही तरिके से काम करने का मौका नहीं दिया और अपने विधायको को पार्टी से निकालना शुरू कर दिया। जिसके चलते हमें फिर से पीपीए को भी छोड़ कर राज्य के विकास के मद्देनजर भाजपा में शामिल होने को मजबूर होना पड़ा है। उन्होंने कहा कि एक तरह से कांग्रेस और पीपीए में कोई अंतर नहीं है। बिना कारण, बिना नोटिस अपने विधायकों को पार्टी और सदस्यता से निलंबित करने का सिलसिला शुरू कर दिया है। जिसके चलते विधायकों का दोनों (कांग्रेस और पीपीए) पार्टियों से भरोसा उठ गया था।

सभी विधायकों ने भाजपा में शामिल होने का सामूहिक रूप से निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि भाजपा में सभी विधायक पूरी बहुमत के साथ शामिल हो गए। इस मौके पर मौजूद प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष तापीर गाव ने खांडू के विधायक दल का भाजपा में स्वागत करते हुए बताया कि पेमा खांडू के नेतृत्व में राज्य में भाजपा कि सरकार चलेगी और यह बात का केंद्रीय कमेटी ने प्रदेश भाजपा को हरी झंडी दे दिया है। उन्होंने कहा कि भाजपा कुल 47 विधायक राज्य में लोगों के हित और राज्य के विकास के लिए काम करेंगे। अंत में मुख्य मंत्री ने कहा कि मंत्रिमंडल से तीन मंत्रियों राजेश ताचो, ताकाम पारियो और तांगा व्यालिंग को बर्खास्त करने का निर्णय लिया गया है। इस संबंध में राज्यपाल को भी सूचित कर दिया गया है।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>