Home भारत लोकसभा में नहीं बोलने देते, इसलिए जनसभा में बोलता हूंः मोदी

लोकसभा में नहीं बोलने देते, इसलिए जनसभा में बोलता हूंः मोदी

48
0

अहमदाबाद। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आलोचना करना लोगों का हक़ है लेकिन मुझे लोकसभा में नहीं बोलने दिया जाता इसलिए जनसभा में बोलता हूं। संसद में चल रहे गतिरोध से राष्ट्रपति भी परेशान हैं और उन्होंने विपक्ष के रवैये की आलोचना भी की है। सरकार नोट बंदी पर चर्चा के लिए तैयार है लेकिन संसद को चलने नहीं दिया जा रहा है। नोटबंदी भ्रष्टाचार ख़त्म करने का अचूक हथियार है। 50 दिन बाद धीरे-धीरे पहले जैसे हालात बदलने वाले हैं। पीएम श्री मोदी ने शनिवार को पहुंचकर दीसा में डेरी के छह प्रोजेक्ट्स का लोकार्पण किया। उसके बाद एक सभा को संबोधित किया।

उन्होने कहा कि करीब 25 साल बाद मैं यहां प्रधानमंत्री नही संतान के रूप में यहां आया हूं। कच्छ और बनासकांठा की महिलाओं के चलते यहां श्वेत क्रांति हुई और देश को यहां के किसानो की मेहनत के बारे में पता चलना चाहिए। पहले यहां के लोग रोजगार के लिए बाहर जाते थे क्योंकि यहां पर रोजगार के संसाधन कम थे, लेकिन किसानो ने यहां की रेगिस्तान की धरती को सोना पैदा करने लायक बना दिया। बनासकांठा के किसानों ने आलू उत्पादन में रिकार्ड कायम किया है। जहाँ श्वेत क्रांति हुई वहां अब स्वीट क्रांति होने वाली है क्योंकि अब यहां मधुमक्खी पालन होने वाला है जिससे शहद उत्पादन के क्षेत्र में मधु क्रांति आएगी। उन्होंने अपने भाषण में कहा कि अब श्वेत क्रांति के बाद मधु क्रांति आएगी। हमारे अमूल ब्रांड के चीज़ और हनी की दुनियाभर में मांग बढ़ रही है।

बनासकांठा दुनियाभर में अनार और आलू के लिए जाना जाने लगा है। उन्होने कहा कि मै दुनिया को बताना चाहता हूं कि हमारे बनासकांठा के किसान किस तरह से खेती करते हैं। उन्होने कहा कि मै यहां एक प्रधानमंत्री के रूप में नही बल्कि इस धरती का पुत्र बनकर आया हूं । जब मैने गुजरात का पदभार संभाला था तो उसके बाद सबसे पहला कार्यक्रम मैने दीसा में ही किया था। इसके बाद गुजरात के सीएम विजय रूपानी ने अपने भाषण में कहा कि स्व. वल्लब भाई पटेल ने बनासकांठा के किसान के लिए जितना काम किया है उतना शायद किसी और ने किया हो।

सीएम ने कहा कि अब कांग्रेसियों की मानसिकता बाहर आ रही है। कांग्रेस के नेता इस समय पाकिस्तानियों की भाषा बोल रहे हैं। देश में पुराने नोट बंद करने के लिए छप्पन इंच का सीना होना चाहिए। काले धन को समाप्त करने के लिए यह निर्णय बहुत जरूरी था। उन्होने कहा कि यह फैसला गरीब प्रजा के हित में लिया गया है। बनास डेरी के चेयरमैन शंकर चौधरी ने प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत करते हुए कहा कि बनास डेरी पूरी एशिया में दूध उत्पादन के मामले में नंबर वन है। नोटबंदी के बाद पहली बार अहमदाबाद आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अहमदाबाद एयरपोर्ट पर भाजपा नेताओं द्वारा भव्य स्वागत किया। इस दौरान राज्यपाल ओपी कोहली, अहमदाबाद के मेयर गौतम शाह और अन्य पदाधिकारी मौजूद थे। पीएम एयरपोर्ट से सीधे हेलिकॉप्टर से दीसा जाने के लिए रवाना हो गए। जब पीएम दीसा पहुंचे तो वहां हजारों लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here