Home मध्यप्रदेश लोकायुक्त का छापा, करोड़ों का आसामी निकला इंजीनियर

लोकायुक्त का छापा, करोड़ों का आसामी निकला इंजीनियर

37
0

इंदौर। आय से अधिक संपत्ति के मामले में लोकायुक्त पुलिस को मिली शिकायत के बाद लोकायुक्त की अलग-अलग टीमों ने शनिवार को सुबह लोक निर्माण विभाग पीआईयू इंदौर में पदस्थ आनंद प्रकाश राणे के घर सहित अन्य ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की। इस दौरान राणे के पास आलीशन मकान, फ्लेट महंगी कार और ज्वेलरी और जमीनों से संबंधित दस्तावेज भी मिले हैं। बेनामी संपत्ति को लेकर की गई कार्रवाई अभी भी जारी है। अब अलसुबह से की गई छापेमार कार्रवाई में लगभग 5 करोड़ की संपत्ति का पता चला है। माना जार है कि कार्रवाई पूरी होने के बाद यह आंकड़ा और भी बढ़ सकता है।

लोकायुक्त एसपी अरुण कुमार मिश्रा के निर्देश पर आज सुबह लोकायुक्त डीएसपी दिनेश पटेल, आरएस यादव, एसपीएस यादव, श्री सुनैया, निरीक्षक श्री चौधरी सहित अन्य अधिकारियों की अलग-अलग टीमों ने राणे के एबी रोड स्थित शहनाई रेसीडेंसी के फ्लैट और उनके भाई विजय प्रकाश राणे के बालाजी हाईट्स महालक्ष्मी नगर स्थित मकान पर कार्रवाई की। अलसुबह लोकायुक्त पुलिस  के अधिकारियों को अपने घर पर देख राणे और उनके परिवार के लोगों के होश उड़ गए। शुरूआत में तो उन्होंने जांच में आनाकानी की, लेकिन जब अधिकारियों ने सख्ती की तो आसानी से जांच मेें सहयोग करने लगे।

यह संपत्ति पता चली

कार्रवाई के दौरान अधिकारी के पास करोड़ों रुपए की संपत्ति होने का खुलासा हुआ है। राणे और उनके भाई के घर से ग्वालियर में आदित्य प्लाजा और मोहननगर में दो मकान। भोपाल के चूनाभट्टी सीआई इनक्लेव और कम्फर्ट कॉलोनी में दो मकान। इंदौर की शहनाई रेसीडेंसी में दो फ्लैट, वहीं विजयनगर की स्कीम 114 में मां विमला राणे और पत्नी अनिता राणे के नाम एक-एक प्लाट। भाई के नाम लक्जरी कार, बेटे के नाम एक बाइक। इसके साथ ही बीसीएम हाईट्स इंदौर में एक फ्लैट के कागजात भी मिले हैं।

1992 में हुए थे पदस्थ

जानकारी के मुताबिक आनंद प्रकाश राणे 21 जुलाई 1992 को सहायक यंत्री के पद पर पदस्थ हुए थे। इस दौरान उनकी पोस्टिंग ग्वालियर, देवास, धार और इंदौर में हुई। इनके पिता जनवेद सिंह वन विभाग से वनपाल के पद से करीब वर्ष 1999 में सेवानिवृत्त हुए हैं, जो कि ग्वालियर के रहने वाले थे।

बेटे की महंगे स्कूल में पढ़ाई

इंजीनियर राणे की पत्नी का नाम अनीता राणे है, जो गृहणी हैं। राणे का एक पुत्र अमित राणे है, जो इंदौर में देवी अहिल्या विश्वविद्यालय से बी.कॉम फस्ट ईयर में पढ़ रहा है और दूसरा पुत्र रोहित राणे है, जो इंदौर के ग्रीन पब्लिक स्कूल में कक्षा 12वीं का छात्र है।

दस्तावेजों की जांच

बताया जाता है कि कार्रवाई के दौरान मकान और जमीनों के अलावा बैंकों से संबंधित दस्तावेज भी लोकायुक्त पुलिस के अधिकारियों को मिले हैं। इनकी जांच की जाना है। अधिकारियों के मुताबिक शुरूआती जांच में 5 से 7 करोड़ की बेनामी संपत्ति का खुलासा हुआ है। दस्तावेजों और बैंकों से जानकारी मिलने के बाद यह आंकड़ा और भी बढ़ सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here