Home लाइफ स्टाइल कई रोगों की अचूक दवा है फलों व सब्जियों का रस

कई रोगों की अचूक दवा है फलों व सब्जियों का रस

76
0

फलों व सब्जियों का रस अत्यंत स्वास्थ्यवर्द्धक माना जाता है। कई लोग इसे केवल स्वाद के लिए उपयोग में लाते हैं पर यह अनेक रोगों का इलाज भी करता है।

यहां ध्यान देने योग्य बात यह है कि इन्हें लेने से पहले हमें यह ज्ञान होना चाहिए कि कौन-सा रस किस बीमारी में लाभदायक है। आइए, आपको बताएं।

ब्लड प्रैशर कम होने पर मौसमी का रस पीना फायदेमंद है।

खून साफ करने के लिए नींबू, गाजर, पालक, टमाटर व सेब का रस पीना चाहिए।

औरतों को अगर माहवारी के समय तकलीफ हो तो अंगूर व अनानास का रस पीने से आराम मिलता है।

बवासीर रोग होने पर मूली के रस का सेवन करें।

ब्लड प्रैशर हाई होने पर गाजर, संतरा, अंगूर आदि के रस का सेवन लाभप्रद है।

शरीर का वजन कम करने के लिए तरबूज, नींबू, लहसुन व अनानास का रस लेना चाहिए।

पथरी होने पर गाजर, सेब, ककड़ी व घीया का रस लाभदायक है।

कैंसर रोग में गाजर व अंगूर के रस का सेवन करें।

किडनी के दर्द में ककड़ी व गाजर का रस पीना चाहिए।

गाजर एवं धनिए के रस का सेवन करने से आंखों की रोशनी तेज होती है।

शूगर की बीमारी में गोभी, गाजर करेले व पालक का रस लें।

अंगूर, सेब, रसभरी, संतरा व मौसमी का रस पीलिया रोग को दूर करने में सहायक है।

खून बढ़ाने के लिए पालक, टमाटर, संतरा, चुकंदर, सेब, अंगूर व मौसमी के रस का सेवन करें।

सर्दी की खांसी में मूली, लहसुन, गाजर आदि का रस लेना लाभदायक है।

सिरदर्द होने पर गाजर, गोभी व ककड़ी के रस का सेवन फायदेमंद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here