Home भारत सपा कुनबे का फिर लेटर बम, शिवपाल पर लगा गंभीर आरोप

सपा कुनबे का फिर लेटर बम, शिवपाल पर लगा गंभीर आरोप

46
0

1लखनऊ। समाजवादी पार्टी में आर-पार की लड़ाई थमना अब मुश्किल है। मुलायम परिवार के बंटे दोनों कुनबे में दिपावली के पहले ही लेटर बम के धमाके जारी है। प्रो. रामगोपाल के बेटे सांसद अक्षय यादव ने सोमवार को पत्र लिखकर शिवपाल पर गंभीर आरोप लगाया है। कहा कि शिवपाल खुद सीएम बनना चाहते थे। वे अखिलेश के खिलाफ साजिश कर रहे हैं। मेरे और पत्नी पर लगाए गए आरोप झूठे हैं।

पत्र के जरिये अक्षय ने कहा है कि ‘‘जिस तरह से मेरे पिता(प्रो. रामगोपाल) को निकाला गया, उससे मैं आहत हूँ। मेरे पिता, मुझ पर व मेरी पत्नी पर जो आरोप लगाए गये गए हैं, वह सभी गलत है। अक्षय ने कहा है कि 2012 में जब समाजवादी पार्टी भारी बहुमत से जीती तो शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री न बनाये जाने की भरपुर कोशिश की। वे स्वयं मुख्यमंत्री बनना चाहते थे। जब केन्द्रीय संसदीय बोर्ड की बैठक बुलाई गई तो उसमें अखिलेश यादव को विशेष आमंत्रित किया गया। शिवपाल ने इसका भी विरोध किया। जब नेताजी वे मेरे पिताजी की ओर से मुख्यमंत्री के लिए अखिलेश के नाम का प्रस्ताव लाया तो शिवपाल ने धमकी दिया और कहा कि अगर वे मुख्यमंत्री बनेंगे तो मैं शपथ नहीं लूंगा। उसके बाद से ही लगातार साजिश कर रहे हैं। वे मुझे, मेरे पिता व अखिलेश यादव को बर्बाद कर सकें, उसी में लगे रहे और उसी के तहत साजिश का दौर चालू हो गया।

अक्षय ने कहा कि अखिलेश यादव मेरे आदर्श हैं। वह एक ऐसे लीडर के रूप में उभरे हैं, जिसे पिछले साढ़े चार वर्षो में दबाने की कोशिश की गई। अपनी मर्जी से काम नहीं करने दिया गया। मानसिक रूप से परेशान किया गया, लेकिन उन्होंने किसी की परवाह किये बिना सरकार को अच्छे से चलाया।

अक्षय ने शिवपाल की ओर इशारा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के साथ बहुत बुरा व्यवहार किया गया। जब वह नये मकान में शिफ्ट हुये तो उनका कुछ सामान पुराने मकान में रखा रह गया था, वह सामान कमरे से फिकवाकर उसमें ताला लगवा दिया गया और वे लोग ताला डालकर विदेश चले गए।
अंत में लिखा है कि मुझे किसी को आहत पहुंचाने का मन नहीं था। मेरे पिता के साथ अन्याय हुआ है जिसका मैं विरोध करता हूँ। ‘‘ मेरा लक्ष्य अखिलेश यादव को दुबारा मुख्यमंत्री बनाना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here