Home लाइफ स्टाइल बढ़ती तोंद से क्या घबराना, उपाय है न!

बढ़ती तोंद से क्या घबराना, उपाय है न!

58
0
fatbelly
पेट निकल रहा है! अक्सर लोग इस बात से परेशान दिखते हैं। कुछ लोग खाना कम कर देते हैं और कुछ जिम का रास्ता पकड़ लेते हैं जो कि काफी थका देने वाला और झुंझलाहट से भरा होता है। हालांकि इन दो तरीकों के अलावा कुछ ऐसे तरीके भी हैं, जिन्हें आप आसानी से अपना सकते हैं। पेट निकलने का मतलब है पेट के आस-पास फैट बढ़ना। अगर इसे समय रहते कंट्रोल कर लिया जाए तो मोटापे की स्थिति से बचा जा सकता है। इस फैट को कम करने के लिए ऐसी चीजें जरूरी होती हैं, जो ज्यादा से ज्यादा कैलोरी बर्न करें। तो जानिए कि ये कौन सी चीजें हैं और इनका इस्तेमाल कैसे करना है। खीरे का जूस 

सोने से पहले खीरे का जूस पियें। यह काफी लाभदायक होता है और पेट को साफ भी कर देता है। इसके साथ ही यह फैट भी नहीं बढ़ाता। इसमें कैलोरी बहुत कम होती है। एक खीरे में मात्र 45 कैलोरी होती है।

धनिया जूस 
इसमें कैलोरी काफी कम मात्रा में पाई जाती है और ऐंटीऑक्सीडेंट की मात्रा भी काफी कम होती है। इसके सेवन से किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होती। धनिया का जूस पीने से किडनी सही रहती है और मोटापा भी कंट्रोल में रहता है। इसे पीने से पेट देर तक भरा-भरा महसूस होता है।

एलोवेरा जूस
एलोवेरा जूस हर मर्ज में काफी लाभकारी होता है। एलोवेरा जूस को प्रतिदिन एक कप पीने से पेट कम होता है। एप्पल साइडर विनिगर को भी पानी या जूस के साथ मिलाकर पीने से फैट घटता है। यह कॉलेस्ट्रॉल की समस्या से भी निजात दिलाता है।ग्रीन टी और नींबू 

ग्रीन टी में ऐंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। अगर पेट की चर्बी घटानी है तो ग्रीन टी को बिना चीनी मिलाए पिएं। नींबू, शरीर से सभी विषाक्त पदार्थ बाहर कर देता है और फैट भी घटाता है। कैनबेरी जूस में नींबू या सिरका मिला कर पीने से फैट बर्न होता है और टॉक्सिन से भी छुटकारा मिलता है।

अदरक का रस
प्रतिदिन महज एक चम्मच अदरक का रस पेट कम करने में काफी सहायक हो सकता है। यह शरीर में फैट बर्न कर देता है। 

क्यों निकलता है पेट
किसका पेट निकलेगा और किसका नहीं, यह काफी हद तक हर व्यक्ति के जीन्स पर निर्भर करता है। नेपल्स विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों के अनुसार, डीडी नाम की एक खास जीन संरचना और पेट के आसपास चर्बी चढ़ने का आपस में गहरा रिश्ता है। डीडी जीन संरचना वाले लोगों में बीस साल बाद मोटे हो जाने की संभावना किसी और किस्म की जीन संरचना वाले लोगों के मुकाबले दोगुनी होती है। खाने-पीने की आदतें और एक्सरसाइज करने या न करने पर भी पेट निकलना काफी हद तक निर्भर होता है। 

उपाय और भी हैं
रोजाना सौ ग्राम ड्राई फ्रूट‌्स डाइट में जरूर शामिल करें। यह कैलोरी और फाइबर से भरपूर होते हैं। 

रोज सुबह पानी के साथ शहद लें। इससे जल्द ही कमर और पेट कम करने में मदद मिलेगी। 

सामान्य आटे के बजाय जौ और चने के मिश्रित आटे की रोटी खाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here