भारत सरकार से सौ गुना ज्यादा है नेस्ले का रेप्युटेशन : रामदेव अग्रवाल
By dsp On 22 Jun, 2015 At 09:29 AM | Categorized As व्यापार | With 0 Comments

मैगी मामला अभी पूरी तरह से ठंडा भी नहीं हुआ है कि देश के एक बड़े मार्केट स्ट्रैटजिस्ट ने विवादित बयान दिया है। ईटी नाऊ को दिए इंटरव्यू में MoFSL के जॉइंट एमडी रामदेव अग्रवाल ने कहा है कि नेस्ले का रेप्युटेशन भारत सरकार से 100 गुना ज्यादा है। पेश है उनसे बातचीत के प्रमुख अंश:-

सवाल: आपने अपनी बुक में भी नेस्ले का उल्लेख किया है और आपने जिन स्टॉकों का अध्ययन किया है, उसमें एक नेस्ले भी है। क्या आप देश में मैगी को लेकर उपजे इतने बड़े विवाद के बाद भी नेस्ले के शेयर को खरीदने की हिम्मत जुटाएंगे? क्या यह समय अपने स्टॉक के साथ धैर्य रखने और यह कहने का समय है कि मैं वैल्युएशन में विश्वास करता हूं?

जवाब: अधिक खरीदारी के लिए धैर्य और साहस होना चाहिए।
सवाल: वाकई? इतना सब कुछ होने के बावजूद नेस्ले के स्टॉक की खरीदारी जानी चाहिए?

जवाब: हां, मैं इस मुकाम पर तो दोगुनी खरीदारी करूंगा।

सवाल: इसलिए शायद आप बिल्कुल चिंतित नहीं हैं?

जवाब: बिल्कुल नहीं। विश्व स्तर पर नेस्ले का रेप्युटेशन भारत सरकार से कम से कम सौ गुना ज्यादा है। यूरोप में नेस्ले का बॉन्ड्स नेगेटिव यील्ड पर ट्रेड करता है जबिक भारत सरकार का बॉन्ड्स 7-8 फीसदी यील्ड पर ट्रेड करता है। यह एक तरह के रेप्युटेशनल गैप है। आज भले ही नेस्ले कंपनी परेशानी में फंसी है, लेकिन फिर भी यह करीब 1,000 करोड़ रुपये कमा रही है। पिछले साल इसने 1,000 करोड़ रुपये प्रॉफिट कमाया। 10 साल बाद, हो सकता है यह 5000 करोड़ या फिर 500 करोड़ प्रॉफिट कमाए।

सवाल: तो क्या अभी समय है कि अच्छी क्वॉलिटी की कंपनियों का स्टॉक खरीदा जाए?

उत्तर: हां। क्वॉलिटी स्टॉक खरीदने के लिए हमेशा अच्छा समय होता है, लेकिन आपको जानना चाहिए कि आप किस मूल्य पर खरीद रहे हैं। मार्केट की स्थिति खराब होने पर अगर स्टॉक बहुत ही महंगा है तो आपको स्टॉक नहीं खरीदना चाहिए। लेकिन, मार्केट की स्थिति ठीक होने पर अगर स्टॉक सस्ता हो तो आपको इसे खरीदना चाहिए।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>