क्रेडिट-डेबिट कार्ड से पेमेंट पर सरकार दे सकती है इनकम टैक्स में छूट
By dsp On 22 Jun, 2015 At 06:29 PM | Categorized As भारत, व्यापार | With 0 Comments
नई दिल्ली। सरकार ने क्रेडिट और डेबिट कार्ड से होने वाले ट्रांजेक्शन पर आयकर में छूट देने की योजना बनाई है। इसके साथ ही कार्ड पेमेंट को ट्रांजेक्शन शुल्क से पूरी तरह से मुक्त करने की योजना है। अगर ऐसा हुआ तो कार्ड से पेट्रोल, गैस और रेलवे टिकट की खरीद पूरी तरह से ट्रांजेक्शन शुल्क से मुक्त हो जाएगी। सरकार ने कार्ड से पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए एक मसौदा तैयार किया है।
क्रेडिट-डेबिट कार्ड से पेमेंट पर सरकार दे सकती है इनकम टैक्स में छूटइलेक्ट्रॉनिक पेमेंट पर आयकर में छूट देने की योजना
सरकार इसके लिए आयकर में छूट देने की भी योजना बना रही है। इसके तहत सरकार ने डेबिट या क्रेडिट कार्ड से भुगतान करने वालों को आयकर में छूट दने का प्रस्ताव भी किया है। मसौदे के मुताबिक, ‘इसके तहत इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से किए जाने वाले खर्च के एक निश्चित भाग पर उपभोक्ताओं को आयकर में छूट जैसे कर लाभ देने पर विचार चल रहा है।’ सरकार ने इस प्रस्ताव 29 जून तक टिप्पणियां आमंत्रित की हैं।
1 लाख रुपए से ज्यादा के लिए इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट हो सकता है अनिवार्य
सरकार ने नकदीरहित अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए यह मसौदा तैयार किया है, जिससे कर चोरी पर रोकथाम लगेगी। इसके लिए सरकार ने 1 लाख रुपये से ज्यादा के ट्रांजेक्शन के लिए इलेक्ट्रॉनिक माध्यम अनिवार्य करने का प्रस्ताव किया है।
दुकानदारों को ई-पेमेंट पर मिल सकती है वैट में छूट
इस क्रम में डेबिट या क्रेडिट कार्ड के माध्यम से बिक्री को बढ़ावा देने के लिए दुकानदारों को प्रोत्साहित करने की योजना है, जिसके तहत उन्हें कर पर छूट दी जा सकती है। मसौदे के मुताबिक, ‘अगर कोई दुकानदार अपनी कुल बिक्री का 50 फीसदी इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों से करता है तो उसे उचित कर छूट दी जा सकती है। ऐसे दुकानदारों के लिए वैल्यु ऐडेड टैक्स (वैट) में 1-2 फीसदी छूट पर विचार किया जा सकता है।’
कार्ड पेमेंट पर ट्रांजेक्शन शुल्क से छूट देने की योजना
सरकार की क्रेडिट या डेबिट कार्ड से किए जाने वाले लेनदेनों को ट्रांजेक्शन शुल्क से छूट देने की योजना है। इसके तहत पेट्रोल पंपों, गैस एजेंसियों और रेलवे टिकटों के लिए कार्ड से होने वाले भुगतानों पर ट्रांजेक्शन शुल्क नहीं लगेगा। सरकार ऐसे भुगतानों पर मर्चेंट रेट में कमी पर भी विचार कर रही है। साथ ही सरकार की ट्रांजेक्शन हिस्ट्री तैयार करने की भी योजना है, जिससे कर चोरी को रोकने में आसानी होगी। यहां बताना जरूरी है कि हाल के दौर में क्रेडिट कार्ड से होने वाले ट्रांजेक्शंस में खासी बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है।
Source: bhaskar.com

 

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>