एसईसीएल की अनुमति निरस्त करने के निर्देश
By dsp On 10 Jan, 2015 At 11:54 AM | Categorized As राजधानी | With 0 Comments

4270

भोपाल। नेशनल ग्रीन ट्ब्यिूनल (एनजीटी) ने मप्र के अनूपपुर जिले में संचालित साउथ इस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड (एसईसीएल) को समय सीमा में कार्य प्रारंभ नहीं करने पर कंपनी के साथ ही प्रदेश सरकार को कड़ी फटकार लगाते हुए कंपनी की अनुमति निरस्त करने के निर्देश दिए हैं। बेंच ने इसके पहले प्रदेश सरकार से एसईसीएल को नोटिस जारी कर जवाब मांगने को कहा है कि क्यों ने समय सीमा में कार्य शुरू नहीं करने के कारण कंपनी की अनुमति निरस्त कर दी जाए। इस संबंध में एनजीटी ने प्रदेश सरकार से कलेक्टर अनूपपुर के मातहत कार्रवाई कर 6 फरवरी को अगली सुनवाई में जवाब देने को कहा है।

याचिकाकर्ता अमित कुमार चतुर्वेदी वर्जस केंद्र सरकार एवं अन्य के मामले में सुनवाई करते हुए एनजीटी ने एसईसीएल को कड़ी फटकार लगाई। याचिका में कहा गया था कि कंपनी द्वारा अनूपपुर जिले की बिजुरी रेलवे साइट पर ट्कों की लोडिंग से बड़े स्तर पर प्रदूषण हो रहा है। यहां पर कंपनी द्वारा इसे रोकने के लिए उचित समाधान नहीं किया जा रहा है। जवाब में कंपनी की ओर से कहा गया कि हरद, कोरिहा और अमलाई साइट में वैकल्पकि व्यवस्था की गई है।

उधर, बिजुरी में प्रदूषण स्थल पर रेवले की जिम्मेदारी है। कंपनी अपनी जमीन पर ही प्रदूषण को रोकने को लेकर कार्य कर सकती है। बिजुरी में प्रदूषण की रोकथाम के लिए अन्य साइट में कार्य किया जा रहा है। इससे स्थानीय जनता प्रभावित नहीं हो रही है। इस पर एनजीटी ने कंपनी को फटकार लगाते हुए कहा कि जमीन आवंटित होने और अनुमति मिलने के बाद भी यदि नियमानुसार अभी तक कार्य चालू नहीं किया गया है, तो अनुमति निरस्त कर दी जाए।

Leave a comment

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>